ताज़ा खबर
 

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने बिहार सीएम को बताया ‘धृतराष्ट्र’, बोले- नीतीश कुमार में नहीं जुबान खोलने की हिम्मत

16 मई को दिल्ली-एनसीआर समेत लालू यादव से जुड़े 22 ठिकानों पर कथित बेनामी संपत्ति के मामले में आयकर विभाग ने छापेमारी की थी। लालू के साथ ही उनके करीबियों के यहां भी छापेमारी की गई थी।
केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कांग्रेस पर साधा निशाना

आरजेडी सुप्रीमो और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव के खिलाफ कार्रवाई करते हुए इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने कथित जमीन घोटाले मामले में छापेमारी की। जिसके विरोध में बुधवार को आरजेडी कार्यकर्ताओं ने पटना में प्रदर्शन किया। राष्ट्रीय जनता दल के समर्थकों द्वारा बीजेपी के एक कार्यालय पर हमला करने की खबर है। इस हमले की बीजेपी की ओर से निंदा की गई है। हमले को लेकर केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को लालू यादव से ज्यादा बड़ा दोषी ठहराते हुए महाभारत का ‘धृतराष्ट्र’ बताया है।

केंद्रीय मंत्री ने इस बारे में ट्विटर पर एक वीडियो शेयर किया है। वीडियो में वह कह रहे हैं- “लालू के खिलाफ जो भी कार्रवाई हुई वो नियमों के तहत की गई थी। बीजेपी के दफ्तर पर आरजेडी कार्यकर्ताओं ने हमला किया, ये कौन-से लोकतंत्र में है कि भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठने पर कोई हमला करे। लेकिन इस हमले के लिए मैं लालू प्रसाद से ज्यादा जिम्मेदार नीतीश कुमार को मानता हूं, जो राज्य के मुखिया हैं। इनकी भूमिका आज वही हो गई है जैसे महाभारत की लड़ाई के पात्र तो दुर्योधन जरुर रहे लेकिन धृतराष्ट्र के मोह ने महाभारत को परिवर्तित कर दिया। नीतीश पर निशाना साधते हुए सिंह ने आगे कहा कि भ्रष्टाचार की इस दौर में नीतीश लड़ाई के युधिष्ठिर बने हुए हैं, उनकी हिम्मत नहीं हो रही है कि भ्रष्टाचार और कुशासन के खिलाफ में जुबान खोल सके। आज को घटना घटी है कि निंदनीय है और इसके लिए कोई दोषी है तो वह नीतीश कुमार हैं।

बता दें कि 16 मई को दिल्ली-एनसीआर समेत लालू यादव से जुड़े 22 ठिकानों पर कथित बेनामी संपत्ति के मामले में आयकर विभाग ने छापेमारी की थी। लालू के साथ ही उनके करीबियों के यहां भी छापेमारी की गई थी। इन ठिकानों में उनकी पार्टी के राज्यसभा सांसद प्रेमचंद गुप्ता (पीसी गुप्ता) का घर भी शामिल था। टीवी रिपोर्ट्स के मुताबिक आरजेडी सुप्रीमो के नाम पर 1000 करोड़ की बेनामी संपत्ति होने का आरोप है। बीजेपी ने लालू यादव और उनके बेटों के जमीन सौदे में शामिल होने का आरोप लगाया था। 12 मई को केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने केंद्र सरकार से कथित लैंड डील में जांच की मांग की थी। आयकर विभाग की छापेमारी के बाद लालू यादव ने धमकी दी थी कि अगर हमारी आवाज दबाओगे तो देशभर में करोड़ों लालू पैदा हो जाएंगे।

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.