ताज़ा खबर
 

मोदी का आरोप- चुनावी हार का बदला ले रहा गांधी परिवार, संसद के कामकाज में डाल रहा बाधा

उन्होंने दावा किया कि विपक्षी दल में ऐसे नेता हैं, जो उनका विरोध करने के बावजूद चाहते हैं कि सदन में कामकाज हो।
Author मोरान | February 5, 2016 18:50 pm
असम के चाय बगान मजदूरों को संबोधित करते हुए मोदी ने आरोप लगाया कि ‘एक परिवार’ नकारात्मक राजनीति में शामिल है। (FILE PHOTO: PTI)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को सोनिया गांधी परिवार को निशाने पर लिया। मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष और उनके बेटे राहुल गांधी पर आरोप लगाया कि वे 2014 के लोकसभा चुनाव में पराजय का बदला लेने के लिए संसद की कार्यवाही में बाधा डाल कर गरीबों को लाभ पंहुचाने वाले विधेयकों को पारित नहीं होने दे रहे हैं। असम के चाय बगान मजदूरों को संबोधित करते हुए मोदी ने आरोप लगाया कि ‘एक परिवार’ नकारात्मक राजनीति में शामिल है। साथ ही उन्होंने दावा किया कि विपक्षी दल में ऐसे नेता हैं, जो उनका विरोध करने के बावजूद चाहते हैं कि सदन में कामकाज हो।
उन्होंने कहा,‘‘जो लोग चुनाव हार गए और जिनकी संख्या 400 से 40 आग गई, वे मोदी को काम नहीं करने दे रहे हैं। इन लोगों ने बाधाएं और मुश्किलें खड़ी करने का निर्णय कर लिया है। इस बारे में साजिश जारी है।’’ मोदी ने कहा, ‘‘ इन्होंने कांग्रेस को सत्ता से बाहर करने के लिए लोगों, गरीब मजदूरों से बदला लेने का निर्णय किया है।’’ प्रधानमंत्री की यह टिप्पणी ऐसे समय में आई है जब संसद के पिछले दो सत्रों में कामकाज बाधित रहने के कारण सदन में जीएसटी समेत आर्थिक सुधार के कई महत्वपूर्ण कदम लंबित हैं और सरकार इन्हें बजट सत्र के दौरान आगे बढ़ाना चाहती है।

असम चुनाव में बीजेपी को जिताने की अपील की
असम के गौरव के विषय को उठाते हुए मोदी ने राज्य के लोगों से प्रदेश में सरकार बनाने के लिए भाजपा को एक मौका देने की अपील की। उन्होंने कहा कि असम के लोगों के कल्याण के लिए कानून तभी बन सकते हैं जब यहां एक ऐसी सरकार हो जो केंद्र की सुने। प्रधानमंत्री ने चाय बगान मजदूरों तक पहुंच बनाने का प्रयास किया, जिनके वोटों की संख्या इस सीमावर्ती राज्य में काफी अधिक है और जहां अगले कुछ महीने में चुनाव होने हैं।

प्रधानमंत्री ने कई लंबित विधेयकों का जिक्र किया जिसमें एक श्रमिकों के बोनस के लिए आय की सीमा बढ़ाने से संबंधित है जबकि दूसरा ब्रह्मपुत्र में नदी परिवहन से जुड़े विषय शामिल है और इसके लिए कांग्रेस एवं गांधी परिवार को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा, ‘‘ इस तरह की नकारात्मकता और अवरोध की राजनीति से किसी को कोई लाभ नहीं होने जा रहा है। ऐसी सोच वाला केवल एक परिवार है जो इस तरह का विनाश लाई है। अन्य विपक्षी दलों में नेता ऐसे नहीं है।’’ मोदी ने कहा, ‘‘ अगर कोई इस तरह की नकारात्मकता और अवरोध पैदा करने में लगा हो तब इससे न तो उन्हें और न ही देश को फायदा होगा।’’

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.