ताज़ा खबर
 

अब गायों को भी ‘आधार कार्ड’ जारी करने पर विचार कर रही मोदी सरकार

पशुपालन विभाग राज्य सरकार की मदद से देश में करीब 8.5 करोड़ गायों को यह टैग जारी करेगा। इसमें गाय के बारे में हर एक जानकारी मौजूद होगी।
Author नई दिल्ली | July 5, 2016 11:38 am
चित्र का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

मोदी सरकार अब गायों को भी आधार कार्ड जारी करने के लिए विचार कर रही है। अब स्वदेशी नस्ल की हर एक गाय को आधार कार्ड की तरह एक विशेष टैग मिलेगा। इसमें उनका एक नंबर होगा। टैग में गाय की नस्ल से लेकर उसके बारे में हर एक जानकारी मौजूद होगी। पशुपालन विभाग बड़े स्तर पर एक प्रोग्राम शुरू करके इन योजना का साकार रूप देने पर काम करेगा। राज्य सरकार की मदद से देश में करीब 8.5 करोड़ गायों को यह टैग जारी किया जाएगा। सरकार यह कदम स्वदेशी नस्ल में बढ़ोतरी और दूध उत्पादन में इजाफे के लिए कर रही है।

Read Also: गायों की तस्करी और हत्या रोकने के लिए कड़े कानून के बाद हरियाणा सरकार ने शुरू की 24 घंटे हेल्पलाइन

सरकार आधार कार्ड के साथ ही गायों को एक हेल्थ कार्ड भी जारी करेगी। जिसमें उनके दूध की मात्रा, दूध के बारे में जानकारी, किसी बीमारी से पीड़ित होने पर उसके बारे में जानकारी और उसकी अन्य स्वास्थ्य संबंधित जानकारी होगी। देश में स्वदेशी किस्म की 70 फीसदी गायें हैं और 8.5 करोड़ दूध देने वाली गाय हैं।

Read Also: Video: दूध ही नहीं सोना भी दे रहीं ये गाय, किसी को भी बना सकती हैं लखपति

पशुपालन विभाग इस प्रोग्राम को राज्य सरकार की मदद से चलाएगा। इसके लिए फंड भी राज्य सरकार ही देगी। बताया जा रहा है कि पहले फेज में 85 फीसदी दुधारू गायों को यह विशेष टैग मिलेगा। साल 2016-17 में करीब पचास लाख, 2017-18 में करीब 3 करोड़ और शेष बची गायों को 2019-2020 विशेष टैग दिया जाएगा।

Read Also: Mother Dairy बेचेगी गाय का दूध, एक दिन की बिक्री का लक्ष्य है 5 लाख लीटर

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.