December 07, 2016

ताज़ा खबर

 

स्वराज अभियान के आरोप को पर्रिकर ने नकारा, राफेल के सौदे को बताया ‘सबसे अच्छा’

स्वराज अभियान के प्रशांत भूषण और योगेंद्र यादव ने आरोप लगाया था कि राफेल के लिए भारत ने दोगुनी कीमत अदा की है।

Author नई दिल्ली | October 21, 2016 16:45 pm
रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर (पीटीआई फाइल फोटो)

रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने गुरुवार (20 अक्टूबर) को कहा कि 36 राफेल लड़ाकू विमानों के लिए हाल ही में 7.878 अरब यूरो में हुए सौदा किसी भी देश के साथ हुआ अब तक का सर्वश्रेष्ठ सौदा है। उन्होंने इस तरह से स्वराज अभियान के प्रशांत भूषण और योगेंद्र यादव के इन आरोपों को खारिज कर दिया कि भारत ने दोगुनी कीमत अदा की है। हालांकि पर्रिकर ने दोनों के इस आरोप पर टिप्पणी नहीं की कि भाजपा सांसद वरुण गांधी को सेना संबंधी गोपनीय जानकारी लीक करने के लिए ‘प्रेम जाल में फंसाया गया’। वरुण ने खुद इस आरोप को पुरजोर तरीके से खारिज कर दिया है। जब स्वराज अभियान के आरोप के बारे में पूछा गया तो पर्रिकर ने कहा, ‘राफेल अब तक का सबसे अच्छा सौदा है जो हमने किया है। यह भारत के प्रधानमंत्री और फ्रांस के राष्ट्रपति की इस सौदे पर सहमति से संभव हुआ जिसका प्रस्ताव अन्य किसी देश को नहीं दिया गया।’

इससे पहले भूषण ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा था, ‘126 विमान पाने की पिछली घोषणा के विपरीत सरकार ने 36 विमान खरीदे और प्रत्येक के लिए दोगुनी कीमत अदा की। निश्चित रूप से इस मामले में कुछ संशय होता है।’ उन्होंने कहा कि इन सब चीजों की जानकारी के बावजूद भाजपा सरकार ने स्कॉर्पीन पनडुब्बी बेचने वाली कंपनी थेल्स को काली सूची में नहीं डाला, जिसमें दासॉल्ट एविएशन की 25.3 फीसदी हिस्सेदारी है। पर्रिकर ने कहा कि कथित स्कॉर्पीन लीक मामले में कुछ साबित नहीं हुआ है और किसी कंपनी पर पाबंदी का सवाल नहीं उठता। भारत ने हाल ही में दासॉल्ट के साथ 36 राफेल विमानों का सौदा किया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 21, 2016 4:45 pm

सबरंग