ताज़ा खबर
 

नोटबंदी पर कांग्रेस सम्मेलन में बोले पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह-सबसे बदतर दिन अभी आने वाले हैं

इससे पहले 9 दिसंबर को मनमोहन सिंह ने नोटबंदी के फैसले को बड़ी आपदा बताया था।
पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह। (

भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने नोटबंदी को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार पर हमला बोला। बुधवार को दिल्ली में कांग्रेस पार्टी के एक सम्मेलन में उन्होंने कहा कि 500 और 1000 रुपये के नोटों को अमान्य करने का फैसला देश की अर्थव्यवस्था को बुरे से बदतर की ओर ले जाएगा। मनमोहन सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मजबूत अर्थव्यवस्था के दावे को खोखला बताया। हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक जनवेदना सम्मेलन में उन्होंने कांग्रेस कार्यकर्ताओं से कहा कि नोटबंदी का फैसला विनाशकारी है। इससे देश पर असर पड़ा है, लेकिन बदतर समय अभी आने वाला है। 1991 में वित्त मंत्री के तौर पर देश की अर्थव्यवस्था को नया आयाम देने वाले मनमोहन सिंह ने कहा कि नोटबंदी के कारण देश की जीडीपी में 2 प्रतिशत की गिरावट दिखेगी।

उन्होंने कहा कि सभी रेटिंग एजेंसियों ने 7.7-7 प्रतिशत या इससे नीचे की ग्रोथ रेट का अनुमान जताया है। इसके कारण कृषि और अनौपचारिक क्षेत्र के रोजगारों में गिरावट आएगी, जो देश की राष्ट्रीय आय में 45 प्रतिशत का योगदान देता है।
इसके अलावा वरिष्ठ कांग्रेस नेता पी.चिदंबरम ने विपक्ष के रवैए को दोहराते हुए कहा कि मोदी सरकार का यह फैसला अर्थव्यवस्था को कमजोर करेगा। न्यूज एजेंसी एनआई ने बुधवार को चिदंबरम के हवाले से कहा कि पूरी दुनिया में सिर्फ वित्त मंत्री अरुण जेटली कह रहे हैं कि नोटबंदी के कारण देश की अर्थव्यवस्था पर कोई असर नहीं पड़ेगा।

इससे पहले 9 दिसंबर को मनमोहन सिंह ने नोटबंदी के फैसले को बड़ी आपदा बताया था। उन्‍होंने देश को आने वाले मुश्किल दौर के लिए तैयार रहने को कहा था। मनमोहन ने अंग्रेजी अखबार ‘द हिंदू’ में कॉलम लिखकर नोटबंदी के फैसले पर सरकार को घेरा था। इसमें उन्‍होंने लिखा था कि नोटबंदी का मोदी सरकार का फैसला जल्‍दबाजी में उठाया हुआ है। इससे देश की आम जनता को भारी परेशानियां झेलनी होगी। मनमोहन ने लिखा था, ”इस योजना के एेलान ने 100 करोड़ से ज्‍यादा भारतीयों के आत्‍मविश्‍वास को समाप्‍त कर दिया। इस फैसले से प्रधानमंत्री ने लाखों भारतीयों का भारत सरकार में अपनी और अपने धन की सुरक्षा को लेकर कायम भरोसा और विश्वास चकनाचूर कर दिया है। मोदी सरकार का यह सोचना गलत है कि सारा कैश कालेधन में और सारा कालाधन कैश में मौजूद है। यह मान्‍यता असलियत से दूर है।”

पूर्व प्रधानंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने नोटबंदी को लेकर पीएम मोदी पर साधा निशाना; कहा- “सबसे बुरा होना अभी बाकी है

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. S
    sach
    Jan 11, 2017 at 10:44 am
    भारतीय बैंकों में पैसा रखने से अच्छा है विदेशी बैंकों में रखो.! इसलिए अम्बानी, अदानी इत्यादि विदेश में खाते रखते हैं..!
    (0)(1)
    Reply
    1. H
      Hemant
      Jan 11, 2017 at 6:34 pm
      Hindustani janta ka khun pine wale kaha se mehnat ki khate he tum unke office job karte ho sayd
      (0)(0)
      Reply
      1. Navin Mange
        Jan 12, 2017 at 12:54 am
        पप्पू यह तो बोलने लगा !!!!!!!
        (0)(0)
        Reply
        1. R
          Rajendra Vora
          Jan 11, 2017 at 11:31 am
          बात तो बिलकुल ी हे इनके तो अब और भी े दिन आनेवाले हे. बाकि जनता की तो जनता जाने. चिदंबरम के हवाले से क्या खबर दी जाती हे और क्यों ये सभी को पता हे. बेचारो की सत्ता का पूरा का पूरा घमंड निकल दिया हे जनता ने लेकि अक्कल हे की घास चरने गयी हे.
          (0)(0)
          Reply
          1. M
            miss practical
            Jan 11, 2017 at 11:36 am
            तो सारे पेमेंट विदेशी खातों से करते है अम्बानी और अदानी? ये koi forien इन्वेस्टर नहीं है जो आप लोग इतनी नफरत करते हो इनसे . ये अपनी महेनत का खाते हैं.
            (0)(0)
            Reply
            1. M
              Mukesh
              Jan 11, 2017 at 10:11 pm
              सत्य वचन ..... इनके और कांग्रेस के और भी े दिन आने वाले है .... खुद तो साइलेंट सिंह ने १० साल में सिवाए घोटालो के कुछ किया नहीं ....और अब कोई कुछ कर रहा है तो इनको हजम नहीं हो रहा ..... चलो मोदी जी ने इनको बोलना तो सिखा ही दिया .....
              (0)(0)
              Reply
              1. Load More Comments