December 10, 2016

ताज़ा खबर

 

बैंक से पैसे निकालने पहुंचे ग्राहक को 10-10 रुपये के सिक्कों में दिए 20 हजार रुपये

नोटबंदी के बाद से ही बैंकों में नकद राशि की कमी हो गई है। इसी वजह से दिल्ली में एक को-ऑपरेटिव बैंक ने अपने एक ग्राहक को 20 हजार रुपये का भुगतान सिक्कों के रूप में किया।

दिल्ली के इम्तियाज आलम 10-10 रुपये के सिक्कों के साथ। (Express Photo)

देश भर में नोटबंदी लागू किए जाने के बाद लोगों को 2000 और 500 रुपये के नए नोट हासिल करने में काफी परेशानियों का समाना करना पड़ रहा है। बैंकों में नई करेंसी की कमी होने की वजह से लोगों को नए नोट नहीं मिल पा रहे हैं। इसी परेशानी की हकीकत को बयां कर रहा है दिल्ली का यह नया मामला।

दिल्ली में एक बैंक ने 20 हजार रुपये निकालने आए अपने ग्राहक को नकद राशि का भुगतान 10-10 रुपये के सिक्कों के रूप किया। इम्तियाज आलम पेशे से पीआर प्रोफेसर हैं और जामिया नगर इलाके के जसोला के एक को-ऑपरेटिव बैंक में उनका खाता है।

बैंक के पास 2000 या 500 रुपये के नए नोट खत्म हो चुके थे और इसीलिए उन्होंने इम्तियाज को 20 हजार रुपये 10-10 रुपये के सिक्कों के रूप में देने की बात कही। इम्तियाज के मुताबिक वह लाइन में 5 घंटे से खड़े थे और उन्हें पैसों की सख्त जरूरत थी।

बड़ी संख्या के नोटों के खत्म हो जाने की वजह से उनको बैंक मैनेजर ने सिक्कों के रूप में पैसे देने की बात कही। कोई और ऑपशन न होने की वजह से इम्तियाज 20 हजार रुपये सिक्कों के रूप में लेने पड़े। बैंक से दिए गए कुल सिक्कों का वजन लगभग 15 किलोग्राम का रहा।

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने 8 नवंबर आधी रात से 1000 और 500 रुपये के पुराने नोटों को बंद कर 2000 और 500 रुपये के नए नोटों को जारी करने की घोषणा की थी। प्रधान मंत्री ने इसे काले धन और भ्रष्टाचार के खिलाफ इसे एक अहम फैसला बताया था।

आज की बाकी खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें

वीडियो: 2000 का नया नोट असली है या नकली? कलर टेस्ट करके ऐसे पहचानें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 19, 2016 4:00 pm

सबरंग