ताज़ा खबर
 

‘भारत माता की जय’ नहीं कहने वालों को देश में रहने का हक नहीं: देवेंद्र फडणवीस

मुख्यमंत्री ने राष्ट्रविरोधी नारे लगाने वालों का समर्थन करने पर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की भी की।
Author नासिक | April 3, 2016 16:52 pm
फडणवीस ने कहा कि विपक्षी दलों को भाजपा के खिलाफ अपनी आवाज उठानी चाहिए, लेकिन ‘भारत माता की जय’ का विरोध नहीं करना चाहिए। (file picture)
राष्ट्रवाद पर देशभर में चल रही बहस के बीच महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा है कि जो ‘भारत माता की जय’ नहीं कह सकते, उन्हें देश में रहने का अधिकार नहीं है। फडणवीस ने शनिवार रात यहां एक जनसभा में कहा, ‘‘ भारत माता की जय कहने पर अब भी विवाद है और जो इसे कहने के विरोध में है, उन्हें यहां रहने का कोई अधिकार नहीं होना चाहिए। यहां रहने वाले लोगों को ‘भारत माता की जय’ कहना चाहिए।’’
उन्होंने राष्ट्रविरोधी नारे लगाने वालों का समर्थन करने पर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की भी आलोचना की। फडणवीस ने कहा कि विपक्षी दलों को भाजपा के खिलाफ अपनी आवाज उठानी चाहिए, लेकिन ‘भारत माता की जय’ का विरोध नहीं करना चाहिए। उन्होंने कहा कि देश की जनता यह सब बर्दाश्त नहीं करेगी।
कुछ पूजा स्थलों पर महिलाओं के प्रवेश को लेकर चल रही बहस पर फडणवीस ने कहा कि हिंदू संस्कृति के अनुसार लिंग या जाति के आधार पर कोई भेदभाव नहीं है और इसलिए किसी मंदिर में महिलाओं का प्रवेश प्रतिबंधित करना उचित नहीं है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार इस मुद्दे पर बंबई उच्च न्यायालय में पहले ही बयान दे चुकी है और आने वाले समय में महिलाओं को मंदिरों में प्रवेश से नहीं रोका जाएगा। फडणवीस ने किसी पार्टी या नेता का नाम लिये बिना कहा कि कुछ लोग अलग विदर्भ, मराठवाड़ा और शेष महाराष्ट्र को लेकर विवाद पैदा कर रहे हैं।
मराठवाड़ा क्षेत्र के लिए नासिक बांध का पानी छोड़ने पर विरोध प्रदर्शन को लेकर फडणवीस ने कहा कि राज्य में इस क्षेत्र की जनता प्यासी है, इसलिए उन्हें पानी देना हमारा कर्तव्य है। पिछली राज्य सरकार के कुछ पूर्व मंत्रियों के खिलाफ जांच की ओर इशारा करते हुए उन्होंने कहा कि उनकी सरकार की लड़ाई भ्रष्टाचार और भ्रष्ट प्रवृत्तियों से है। जिन्होंने राज्य का खजाना लूट लिया, सरकार उन्हें नहीं छोड़ेगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग