May 30, 2017

ताज़ा खबर

 

लखनऊ एनकाउंटर: जानिए, कैसे यूपी, तेलंगाना, एमपी और केरल पुलिस ने मिलकर ध्वस्त किया ISIS का खुरासन मॉड्यूल

पुलिस ने 12 घंटे के ऑपरेशन के बाद संदिग्ध आईएस आतंकी सैफुल्लाह को बुधवार तड़के मार गिराया।

लखनऊ में आईएस संदिग्धों से बरामद सामान। ( Photo Source: PTI)

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में बुधवार तड़के 12 घंटे के ऑपरेशन के बाद संदिग्ध आईएसआईएस आतंकी सैफुल्लाह को मार गिराया गया। यूपी के आतंकरोधी दस्ते ने कहा कि मारा गया संदिग्ध सैफुल्लाह आईएसआईएस के खुरासन मॉड्यूल से ताल्लुक रखता था। इसके साथ ही यह भी बताया जा रहा है कि उसके भोपाल-उज्जैन ट्रेन ब्लास्ट से भी लिंक था। बता दें, मंगलवार को मध्यप्रदेश के शाजापुर जिले के जबड़ी स्टेशन के पास ट्रेन में बलास्ट हुआ था, जिसमें करीब 10 लोग घायल हो गए थे।

खुरासन मॉड्यूल को ध्वस्त करने के लिए चार राज्य यूपी, तेलंगाना, मध्यप्रदेश और केरल ने मिलकर काम किया। अंग्रेजी वेबसाइट इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक केरल पुलिस ने सीरिया के हेंडलर की यूपी के लड़कों के साथ बातचीत और मध्यप्रदेश में उनके मूवमेंट की जानकारी तेलंगाना पुलिस को दी थी। इसके बाद यह जानकारी यूपी और एमपी पुलिस के साथ भी शेयर की गई। तेलंगाना पुलिस ने आतंकी संगठन आईएसआईएस के खुरासन मॉड्यूल और उनके हमले की योजना के बारे में मध्यप्रदेश और यूपी पुलिस को दी। तेलंगाना पुलिस मध्यप्रदेश में ट्रेन विस्फोट से पहले सीरिया के हेंडलर के साथ ऑनलाइन चेट को ट्रैक कर रही थी। इन लड़कों की लोकेशन के बारे में पता लग गया था और संबंधित पुलिस विभाग को इसके बारे में जानकारी दे दी थी।

संदिग्ध आईएस आतंकियों से बरामद सामान। ( Photo Source: PTI)

एमपी पुलिस ने आतिफ मुजफ्फर उर्फ अल कासिम (कानपुर), मोहम्मद दानिश उर्फ जफर (कानुपर), सैयद मीर हुसैन उर्फ हमजा ( अलिगढ़) को होशंगाबाद और पिपारिया से गिरफ्तार किया। उनकी जानकारी के आधार पर यूपी पुलिस ने मोहम्मद फैजल खान और मोहम्मद इमरान को कानपुर से गिरफ्तार किया। इनके पास से लेपटॉप और मोबाइल फोन जब्त कर लिया। इनमें आईएसआईएस से संबंधित वीडियो और साहित्य मिला था। इसके साथ ही एक अन्य संदिग्ध फकरे आलाम उर्फ रिशू को इटावा से गिरफ्तार किया गया॥ तेलंगाना पुलिस ने केरल, कर्नाटक, महाराष्ट्र और तमिलनाडु पुलिस के साथ इस मॉड्यूल के बारे सूचना शेयर कर रही थी।

संदिग्ध आतंकी इसी इमारत में छुपे हुए थे। ( Photo Source: PTI)

उत्तर प्रदेश में चल रहे विधानसभा चुनाव में यह आईएसआईएस मॉड्यूल राज्य के कई स्थानों पर हमला करना चाहता था, लेकिन कड़ी सुरक्षा की वजह से वे लोग पड़ोसी राज्य मध्यप्रदेश चले गए। ये लोग उज्जैन ट्रेन में मोबाइल फोन के जरिए आईईडी से हमला करना चाहते थे, लेकिन कुछ तकनीकी खामियों की वजह से ऐसा नहीं हो सका। पुलिस के मुताबिक उन्होंने इंटरनेट के जरिए इसकी ट्रेनिंग हासिल की थी।

बता दें, तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान के एक हिस्सा का नाम आईएसआईएस के खुरासन ग्रुप कर दिया गया था। यह पाकिस्तान और अफगानिस्तान से ऑपरेट होता है। इसके अलावा ये लोग खुरासन ढाका ग्रुप के जरिए बांग्लादेश में नए लड़ाके भर्ती करते हैं। पिछले साल ढाका में एक कैफे पर इसी ग्रुप ने हमला किया था।

पुलिस और आतंकियों के बीच एनकाउंटर को देखने के लिए इकट्ठे हुए लोग। ( Photo Source: PTI)

वीडियो- ISIS से जुड़े लखनऊ एनकाउंटर और भोपाल ट्रेन ब्लास्ट के तार!

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on March 8, 2017 5:01 pm

  1. अनिल जनविजय
    Mar 8, 2017 at 12:18 pm
    झूठी और नकली ख़बर है।
    Reply

    सबरंग