ताज़ा खबर
 

केजरीवाल ने मोदी से कहा: जेटली से सावधान रहिए, उन्‍हें तो चुनाव लड़ना नहीं है, आपको वोट की जरूरत है

जंतर-मंतर पर जमा आभूषण विक्रेताओं को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा कि व्यापारियों के बीच भाजपा का जनाधार खत्म हो रहा है।
Author नई दिल्‍ली | April 3, 2016 22:04 pm
ज्‍वैलर्स को संबोधित करते हुए दिलली के सीएम अरविंद केजरीवाल। (Photo: PTI)

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को कहा कि अगर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व्यापारियों का समर्थन नहीं खोना चाहते तो फिर वित्त मंत्री अरूण का पक्ष ‘छोड़’ दें। उनका यह बयान चांदी के अलावा दूसरे आभूषणों पर उत्पाद शुल्क लगाए जाने के मुद्दे को पर आया है। बता दें कि स्वर्ण व्यापारी, आभूषण विक्रेताओं तथा इस क्षेत्र से जुड़े दूसरे लोग दो मार्च से हड़ताल कर रहे हैं। उनकी मांग है कि उत्पाद शुल्क को वापस लिया जाए।

जंतर-मंतर पर जमा आभूषण विक्रेताओं को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा कि व्यापारियों के बीच भाजपा का जनाधार खत्म हो रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और मोदी में कोई फर्क नहीं है क्योंकि भाजपा संप्रग सरकार की नीतियों को लागू कर रही है। केजरीवाल ने कहा, ‘धारणा यह थी कि भाजपा व्यापारियों की पार्टी है। फिर अब क्या हो गया? प्रधानमंत्री जी को मैं बताना चाहता हूं कि जेटली जी को वोट लेना या चुनाव नहीं लड़ना है। आपको वोट की जरूरत है इसलिए थोड़ा सावधान रहिए। अगर ज्वैलर के साथ धोखा किया गया तो व्यापारी भाजपा का साथ छोड़ देंगे।’

आम आदमी पार्टी के संयोजक ने अपने संबोधन में प्रधानमंत्री और उनके ‘मेक इन इंडिया’ जैसे कार्यक्रमों पर तीखे कटाक्ष किए। उन्होंने दावा किया कि भाजपा सांसद और यहां तक कि कई केंद्रीय मंत्री भी ज्वैलर के पक्ष में हैं तथा ‘भाजपा के सांसद इसको लेकर हैरान हैं कि जेटली ने प्रधानमंत्री को क्या समझा दिया है।’ मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा, ‘भाजपा एक तरफ है और प्रधानमंत्री दूसरी तरफ हैं। परंतु क्यों? प्रधानमंत्री जेटली के पूरे नियंत्रण में हैं। मैं मोदी जी से उम्र और अनुभव में काफी छोटा हूं लेकिन उनको एक छोटा सा सुझाव देना चाहता हूं। कृपया जेटली जी का पक्ष छोड़िये, वह आपका नुकसान करेंगे।’

वहीं भाजपा ने केजरीवाल पर पलटवार करते हुए कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री आभूषण विक्रेताओं का उपयोग ‘राजनीतिक हथियार’ के तौर पर कर रहे हैं और उन्हें उनकी मांगों की खास परवाह नहीं है। भाजपा के सचिव श्रीकांत शर्मा ने यहां कहा ‘जेटली ने उनके (केजरीवाल के) खिलाफ 10 करोड़ रूपये का मानहानि मुकदमा किया है। ये टिप्पणियां उसी हताशा का नतीजा हैं। आभूषण विक्रेताओं की चिंताओं को दूर करने के लिए ईमानदारी से प्रयास किए जा रहे हैं। उन्हें आश्वासन दिया गया है कि उत्पाद शुल्क के नाम पर अधिकारी उन्हें परेशान नहीं करेंगे।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.