ताज़ा खबर
 

निलम्बित आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर को उप्र सरकार ने थमाया आरोप पत्र

उत्तर प्रदेश सरकार ने दो दिन पहले स्वेच्छाचारिता, अनुशानहीनता और अदालत के आदेशों के उल्लंघन के आरोप में निलम्बित वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर को आरोप पत्र थमा दिया है।
Author July 15, 2015 16:04 pm
उत्तर प्रदेश सरकार ने दो दिन पहले स्वेच्छाचारिता, अनुशानहीनता और अदालत के आदेशों के उल्लंघन के आरोप में निलम्बित वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर को आरोप पत्र थमा दिया है।

उत्तर प्रदेश सरकार ने दो दिन पहले स्वेच्छाचारिता, अनुशानहीनता और अदालत के आदेशों के उल्लंघन के आरोप में निलम्बित वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर को आरोप पत्र थमा दिया है।

ठाकुर को सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव के खिलाफ उन्हें टेलीफोन पर धमकाने के आरोप में प्राथमिकी दर्ज करने के लिए हजरतगंज कोतवाली में तहरीर देने और उसी रात उनके खिलाफ गाजियाबाद की एक महिला द्वारा बलात्कार की प्राथमिकी दर्ज कराये जाने के बाद 13 जुलाई को निलम्बित कर दिया गया था।

पुलिस महानिरीक्षक :नागरिक सुरक्षा : के पद पर तैनात रहे ठाकुर को निलंबन के बाद पुलिस महानिदेशक कार्यालय से संबद्ध कर दिया गया है।

सपा मुखिया की कथित धमकी तथा गाजियाबाद की महिला की तरफ से दर्ज प्राथमिकी के बाद अपनी तथा अपनी पत्नी नूतन ठाकुर की सुरक्षा की गुहार लेकर केन््रदीय गृह मंत्रालय के अधिकारियों से मिलने गये ठाकुर आज लखनऊ वापस लौट आये है, जिसके बाद उन्हें निलंबन संबंधी आरोप पत्र सौंप दिया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. N
    Nagendra Karchuli
    Jul 15, 2015 at 6:09 pm
    कहावत है कि जब गीदड की मौत आती है तो वह शहर की ओर भगता है वही हालात उत्‍तर प्रदेश मे हैं। सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव जिस तरह से तानाशाही का रवैया अपनाये हैं शायद यह समाज के लिये अच्‍छा नहीं है। अमिताभ ठाकुर के साथ ज्‍यादती की हद हो गई मुलायम सिंह यह न समझे की उनके द्वारा किये जा रहे आचरण को जनता नहीं देख रही है जनता बखूबी देख रही है मगर अभी उसके हांथ में चाभी नहीं है 2017 में जनता के हाथ में चाभी होगी तो मुलायम सिंह का ताला खोल दिया जायेगा।
    (0)(0)
    Reply
    सबरंग