ताज़ा खबर
 

VIDEO: मोदी सरकार के नोटबंदी के फैसले के खिलाफ सड़क पर आए सरकारी कर्मचारी, उतारे कपड़े

नोटंबदी का फैसला 9 नवंबर को लागू किया गया था। तकरीबन महीने पर बीत जाने के बाद भी हालत में कुछ ज्यादा सुधार होते हुए नहीं दिख रहा है। शनिवार को पश्चिम बंगाल के कोलकाता में एक सरकारी कर्मचारी की एटीएम की लाइन में खड़े रहने के दौरान मौत हो गई थी।
Author तिरुवंतपुरम | December 4, 2016 10:11 am
नोटबंदी के फैसले के खिलाफ सरकारी कर्मचारियों ने किया प्रदर्शन। (Photo Source: AP)

मोदी सरकार के नोटबंदी के फैसले का एक ओर जहां लोग समर्थन कर रहे हैं, वहीं इस फैसले का विरोध भी किया जा रहा है। शुक्रवार को केरल के तिरुवंतपुरम में सरकारी कर्मचारियों ने मोदी सरकार के इस फैसले के विरोध में अर्ध नग्न होकर प्रदर्शन किया। वीडियो में दिखाई दे रहा है कि दर्जनों की संख्या में सरकारी कर्मचारी जिला कोषागार के सामने प्रदर्शन कर रहे हैं और विरोध में नारेबाजी कर रहे हैं। शुक्रवार रात जारी किए गए प्रेस रिलीज के मुताबिक राज्य के कोषागारों ने कुल 140.57 करोड़ रुपए की मांग आरबीआई से की थी। लेकिन शुक्रवार रात तक कोषागारों को केवल 99.83 करोड़ रुपए ही मिले हैं। केरल में अलग-अलग जगहों पर कुल 22 कोषागार है, जिन्होंने 50 लाख से 80 लाख के बीच मांग की थी। हालांकि उन्हें 10 लाख से भी कम पैसे प्राप्त हुए हैं। इसके साथ ही कैश की कमी के चलते 3 कोषागारों को पैसा नहीं मिला है।

गौरतलब है कि इससे पहले भी नोटबंदी और उसके चलते हो रही दिक्कतों को लेकर कोयंबटूर में महिलाओं ने अजीबोगरीब तरीके से विरोध प्रदर्शन किया था। महिलाओं ने एटीएम मशीन से पैसे नहीं निकलने से परेशान होकर एटीएम की मौत पर शोक गीत और उस फूल चढ़ाकर उसका अंतिम संस्कार किया। इस पूरे वाक्ये का वीडियो भी सोशल मीडिया पर अपलोड किया गया। वीडियो में दिखाई दे रहा है कि सीपीआई(M) की महिला विंग AIDWA ने कोयंबटूर में सरकार के फैसले से असहमति जताने के लिए गाना गया। एटीएम मशीन के काम न करने पर फूल और माला चढ़ाई गई और उसके “दुखद निधन” पर अंतिम संस्कार गीत भी गाया गया। कुछ महिलाओं ने रोने की भी एक्टिंग की। वीडियो में AIDWA की सदस्य प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के फैसले पर अपना विरोध जताते हुए दिखा रही हैं कि उनके इस निर्णय से आम आदमी को कितनी परेशानी हो रही है। महिलाओं ने मांग की है कि लोगों को एटीएम और बैंकों का पूरा उपयोग कर सके ताकि वह अपने दैनिक जरुरतों के लिए पैसे निकाल सके।

नोटंबदी का फैसला 9 नवंबर को लागू किया गया था। तकरीबन महीने पर बीत जाने के बाद भी हालत में कुछ ज्यादा सुधार होते हुए नहीं दिख रहा है। शनिवार को पश्चिम बंगाल के कोलकाता में एक सरकारी कर्मचारी की एटीएम की लाइन में खड़े रहने के दौरान मौत हो गई थी।

वीडियो: मोदी सरकार के फैसले के खिलाफ लोगों ने किया अर्धनग्न प्रदर्शन (Video Courtesy: Quint)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.