December 10, 2016

ताज़ा खबर

 

…तो पुलिस के मुताबिक पोर्न नहीं, डोनाल्ड ट्रंप की पत्नी मेलानिया की फोटोज देख रहे थे कर्नाटक के मंत्री?

कर्नाटक में तनवीर सेठ नाम के जिस मिनिस्टर को पोर्न देखते हुए मीडिया ने पकड़ने का दावा किया था उसके बारे में अब एक नई जानकारी सामने आई है।

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की पत्नी मेलानिया ट्रंप। (फाइल फोटो)

कर्नाटक में तनवीर सेठ नाम के जिस मिनिस्टर को पोर्न देखते हुए मीडिया ने पकड़ने का दावा किया था उसके बारे में अब एक नई जानकारी सामने आई है। टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, तनवीर सेठ मोबाइल पर पोर्न नहीं बल्कि अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की पत्नी मेलानिया ट्रंप के फोटोज देख रहे थे। खबर के मुताबिक, पुलिस से कुछ सीनियर अधिकारियों ने भी इस बात की पुष्टि की है। पुलिस ने कहा कि मिनिस्टर मेलानिया के पुराने फोटोज देख रहे थे जो कि उन्होंने मॉडलिंग करते वक्त खिंचवाए थे। वे फोटोज डोनाल्ड ट्रंप के जीतने के बाद व्हाट्सअप समेत सोशल मीडिया के सभी प्लेटफॉर्म पर वायरल हो रही थी। विवाद बढ़ने के बाद कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया और कांग्रेस के राज्य अध्यक्ष जी पर्मेशवर ने मंत्री से इस मुद्दे को लेकर जवाब भी मांगा था। हालांकि, तनवीर सेठ ने अपनी सफाई में कहा था कि वह तो टीपू सुल्तान की फोटोज देख रहे थे जो कि उनके फोन पर किसी ने व्हाट्सअप पर भेजी थी। तनवीर ने कुछ न्यूज चैनलों पर उनके खिलाफ ‘फर्जी खबर’ चलाने की शिकायत भी दर्ज करवाई थी।

तनवीर सेठ कर्नाटक के शिक्षा मंत्री हैं। टीपू सुल्तान की जयंती पर आयोजित एक समारोह में तनवीर पर यह आरोप लगे थे। शुरुआती जानकारी के मुताबिक क्षेत्रीय टीवी चैनल न्यूज-9 के संवाददाता ने प्राथमिक एवं माध्यमिक शिक्षा मंत्री तनवीर सेठ को मंच पर ऐसा करते हुए देखने और कैमरे में कैद करने का दावा किया था। गौरतलब है कि मंत्री तनवीर सेठ ही टीपू वक्फ एस्टेट के चेयरमैन हैं और उस कार्यक्रम का जिम्मा भी इन्हीं के ऊपर था।

तनवीर सेठ ने क्षेत्रीय टीवी चैनल न्यूज-9 के स्थानीय पत्रकार और उसके कैमरामैन के खिलाफ पुलिस में मामला भी दर्ज करा दिया है। पुलिस ने शिक्षा मंत्री की शिकायत मिलने के बाद दोनों के खिलाफ आईपीसी की धारा 504 के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

हालांकि, यह पहला मौका नहीं है जब राज्य के किसी नेता को मोबाइल पर पोर्न वीडियो देखते हुए कैमरे में कैद किया गया हो। इससे पहले साल 2012 में बीजेपी के दो मंत्री विधानसभा का कार्यवाही के दौरान ही मोबाइल पर पोर्न वीडियो देखते हुए कैमरे में कैद हुए थे। साल 2015 में ओडिशा विधान सभा के अध्यक्ष ने भी कांग्रेस के एक विधायक को सदन में पोर्न वीडियो देखने के मामले में सदन से सात दिनों के लिए सस्पेंड कर दिया था।

वीडियो: मोबाइल पर अश्लील वीडियो देखते हुए पकड़े गए कर्नाटक के मंत्री; सफाई में कहा- “मैनें कुछ गलत नहीं किया”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 16, 2016 11:57 am

सबरंग