ताज़ा खबर
 

टीवी पर खबरें देखकर रो पड़ी गिरफ्तार जेएनयू छात्रसंघ अध्‍यक्ष की मां, कहा- मेरे बेटे को आतंकवादी न कहो

मां मीना देवी ने बताया, ‘‘मुझे उम्मीद है कि पुलिस उसे बहुत ज्यादा नहीं पीटेगी। उसने कभी भी माता पिता का अपमान नहीं किया, देश की बात तो भूल ही जाइए।''
Author नई दिल्‍ली | February 16, 2016 15:52 pm
मीना एक आंगनवाड़ी कार्यकर्ता हैं और साढ़े तीन हजार रुपए प्रति माह कमाती हैं। उन्होंने कहा कि वह और उनका बड़ा बेटा मणिकांत ही घर में कमाने वाले हैं क्योंकि उनके 65 वर्षीय पति लकवाग्रस्त होने की वजह से सात वर्षों से बिस्तर पर हैं। (Source: Express Photo By Prashant Ravi)

जवाहरलाल नेहरू छात्र संघ के अध्यक्ष कन्हैया की मां ने कहा है, ‘कृपया मेरे बेटे को आतंकवादी मत कहिए।’ बिहार के बेगुसराय जिले में पड़ोसी के घर पर टीवी समाचार देख कर वह रो पड़ीं। उसकी मां मीना देवी ने बिहार से फोन पर बताया, ‘हमें जब से पता चला है कि कन्हैया को गिरफ्तार कर लिया गया है, तब से हम लगातार टीवी देख रहे हैं। मुझे उम्मीद है कि पुलिस उसे बहुत ज्यादा नहीं पीटेगी। उसने कभी भी अपने माता-पिता का अपमान नहीं किया, देश की बात तो भूल ही जाइए। कृपया मेरे बेटे को आतंकवादी नहीं बोलिए। वह यह नहीं हो सकता है।’ मीना एक आंगनबाड़ी कार्यकर्ता हैं और साढ़े तीन हजार रुपए प्रति माह कमाती हैं। उन्होंने कहा कि वह और उनका बड़ा बेटा मणिकांत ही घर में कमाने वाले हैं क्योंकि उनके 65 वर्षीय पति लकवाग्रस्त होने की वजह से सात बरसों से बिस्तर पर हैं।

कन्हैया के किसान पिता जयशंकर सिंह ने कहा कि उनके बेटे को हिन्दुत्व राजनीति का विरोध करने के कारण मामले में फंसाया जा रहा है। उन्होंने कहा, ‘मेरा बेटा भाजपा सरकार के खिलाफ कई अभियानों का हिस्सा रहा है, चाहे फेलोशिप हो या हैदराबाद विश्वविद्यालय में दलित छात्र की आत्महत्या का मामला। उसे हिंदुत्व राजनीति का विरोध करने की सजा दी जा रही है।’ सिंह कहा, ‘कन्हैया कभी भी राष्ट्र विरोधी नहीं हो सकता है। उसके राष्ट्र विरोधी विचारधारा का अनुसरण करने का कोई सवाल ही नहीं है। वह अपने उम्र के हजारों युवाओं की तरह ही राष्ट्रवादी है। वह ‘भारत माता’ का अपमान नहीं कर सकता है।

कन्हैया के अन्य भाई प्रिंस ने उसकी गिरफ्तारी राजनीति से प्रेरित बताते हुए आरोप लगाया कि यह चिंतनीय है कि राष्ट्र विरोधी ताकतें जिनकी स्वाधीनता आंदोलन में कोई भूमिका नहीं थीं, वह आज मेरे भाई और उसके विश्वविद्यालय को राष्ट्र विरोधी बता रहे हैं। यह मुद्दा सिर्फ कन्हैया के बारे में नहीं है, बल्कि उससे काफी बड़ा है।

Read Also: क्या गृह मंत्री ने अफजल के समर्थन में नारेबाजी को हाफिज के समर्थन की बात फेक ट्वीट के आधार पर कही?

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. B
    Babubhai
    Feb 14, 2016 at 2:20 pm
    Abhi sab apnoke bachav me logoki sahanubhuti leneke liye chini chupdi bate karne lagte he
    Reply
    1. A
      Ajay Patel
      Feb 15, 2016 at 9:56 am
      अब RS 15000-50000/महीना कमायें. बस आपको Advertising करना है. और कम्पनी आपको हर माह आपके बैंक एकाउंट मे रूपया देगी...बस आप इस whatsApp no. (9713043269)पर "Info" लिख कर send कीजिए
      Reply
      1. N
        Navin Mange
        Feb 15, 2016 at 4:37 am
        हर मटा पिता को अपना बच्चा होनहार लगता है गुणदोष नज़र अंदाज कर करने खासियत होती है
        Reply
        1. P
          PIYUSH SINGH
          Feb 14, 2016 at 5:28 pm
          आज मुझे बिहारी होने पर बहुत दुःख हो रहा hai
          Reply
          1. P
            pardeep kamboj
            Feb 16, 2016 at 1:26 am
            किसलिए भाई ...गद्दार की कोई जाती नहीं होती..गद्दार गद्दार होता hai
            Reply
          2. R
            Ramashankar
            Feb 19, 2016 at 6:25 pm
            Jo kisi ma ke bare me apshabdo ka prayog karta ho WO bharat ma ka sammaan kaise karega. Shame on you.
            Reply
            1. S
              Shivendra jaiswal
              Feb 16, 2016 at 2:15 pm
              कसाब की माँ का भी ऐसी सोच रही होगी, जब इंटरव्यू में इस से कहा गया की भारत माँ की जय बोलो तो इसकी माँ मर गयी थी।
              Reply
              1. सुनील कुमार
                Feb 14, 2016 at 2:33 pm
                आपका बेटा हिंदुत्व का बिरोध करते करते आतंकियों और देशद्रोहियो का समर्थन करने लगा है। वन्दे मातरम् बोलनेवाले उसके दुश्मन और भारत की बर्बादी के सपने संजोने वाला उसका मित्र बन गया है।इसीलिए हम चाहते है की उसका पिछवाड़ा इतना सूजा दिया जाय की फिर कोई ऎसा साहस नहीं करे।
                Reply
                1. J
                  Jasodaben
                  Feb 14, 2016 at 9:59 pm
                  सूजा जा कर
                  Reply
                  1. L
                    lankesh
                    Feb 15, 2016 at 11:17 am
                    जॉच के बाद दुध एवं पानी अलग हो जाएगा
                    Reply
                  2. S
                    suresh k
                    Feb 14, 2016 at 12:57 pm
                    अपने बेटे की संगत सुधारिये वह देश के दुश्मनो के साथ हो गया है , ये आप जैसे सादा इंसान को ही पकड़ कर सुब्ज बाग दिखा कर आतंकवादी , नक्सलवादी बनाते है , खायेगा आपका बेटा मजे करेंगे देशद्रोही कम्युनिस्ट
                    Reply
                    1. V
                      vinod
                      Feb 14, 2016 at 9:57 pm
                      आपके बेटे की कितनी बात सच हैं ये तो जाँच के बाद पता चलेगा लेकिन ये सरकार आशाराम बापू जैसे को ज़रूर जेल से छोड़ देगी
                      Reply
                      1. Load More Comments
                      सबरंग