ताज़ा खबर
 

सरकार ने बाढ़ पीड़ितों के पुनर्वास और ढांचे को फिर से बनवाने की प्रतिबद्धता जताई

बाढ़ पीड़ितों का पुनर्वास करने और बाढ़ से क्षतिग्रस्त ढांचों को बनवाने की प्रतिबद्धता जताते हुए जम्मू-कश्मीर सरकार ने आज कहा कि यह भी सुनिश्चित करने का प्रयास किया जाएगा कि भविष्य में ऐसी आपदा नहीं आए। मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद ने यहां कैबिनेट बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा, ‘‘बाढ़ प्रभावित लोगों का पुनर्वास […]
Author श्रीनगर | September 7, 2015 18:00 pm

बाढ़ पीड़ितों का पुनर्वास करने और बाढ़ से क्षतिग्रस्त ढांचों को बनवाने की प्रतिबद्धता जताते हुए जम्मू-कश्मीर सरकार ने आज कहा कि यह भी सुनिश्चित करने का प्रयास किया जाएगा कि भविष्य में ऐसी आपदा नहीं आए।

मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद ने यहां कैबिनेट बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा, ‘‘बाढ़ प्रभावित लोगों का पुनर्वास प्रगति पर है लेकिन पूरे पुनर्वास और पुनर्निर्माण की प्रक्रिया में अब भी कमियां हैं जिन्हें यथाशीघ्र ठीक करने की जरूरत है।’’

पिछले वर्ष आज ही के दिन जम्मू-कश्मीर में विनाशकारी बाढ़ आई थी जो हाल में राज्य के इतिहास की सबसे खतरनाक प्राकृतिक आपदा थी।

मुख्यमंत्री ने अपने कैबिनेट सहयोगियों से कहा कि बाढ़ से नुकसान हुए ढांचों का पुनर्निर्माण जारी है और सड़क नेटवर्क, पुल निर्माण, स्वास्थ्य और शैक्षणिक संस्थानों के पुनर्निर्माण में काफी प्रगति हुई है।

सईद ने कहा, ‘‘अन्य क्षेत्रों में काम भी प्रगति पर है और पुनर्वास एवं पुनर्निर्माण काम प्रगति पर है।’’

उन्होंने उम्मीद जताई कि केंद्र न केवल बाढ़ प्रभावित लोगों की आजीविका को फिर से पटरी पर लाने में राज्य सरकार का सहयोग करेगा बल्कि जम्मू-कश्मीर को सुरक्षित और स्थिर बनाने में भी सहयोग करेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग