ताज़ा खबर
 

पाकिस्‍तान ने फिर तोड़ा सीजफायर, भारतीय सेना ने कहा- हमें भी माकूल जवाब देने का अधिकार

इससे पहले सोमवार सुबह पाकिस्तानी सेना के जवानों ने राजौरी सेक्टर में सीजफायर का उल्लंघन किया था। फायरिंग में भारतीय सेना का एक जवान शहीद हो गया था।
Author श्रीनगर। | July 17, 2017 20:01 pm
कश्मीर में भारत-पाक सीमा पर तैनात जवान। (File Photo)

पाकिस्तानी ने सोमवार शाम एक बार फिर सीजफायर का उल्लंघन किया। पाकिस्तानी ने जम्मू-कश्मीर के उरी सेक्टर में फायरिंग की। पाकिस्तान ने भारतीय सेना की कई पोस्ट्स को निशाना बनाया। भारत की ओर से पाकिस्तान की नापाक कार्रवाई को मुंहतोड़ जवाब दिया जा रहा है। न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक उरी सीजफायर उल्लंघन ने सेना का एक जवान घायल हो गया है। पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (PoK) की ओर से आर्टिलरी शैल्स (तोप के गोले) फायर किए जा रहे हैं।

कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान की ओर से गोलीबारी में सोमवार को एक जवान शहीद हो गया। इस दौरान पांच साल की एक बच्ची की जान भी चली गई। घटना से नाराज भारत ने कड़े शब्दों में कहा है कि उसके पास इसका ‘माकूल जवाब देने का अधिकार’ है। भारतीय क्षेत्र में पाकिस्तान की ओर से यह गोलीबारी दोनों देशों के वरिष्ठ सैन्य कमांडरों की नियंत्रण रेखा पर दोनों ओर से लगातार हो रही गोलीबारी को लेकर सोमवार को हुई बातचीत के बावजूद हुई है। पाकिस्तान की ओर से हुई गोलीबारी में जान गंवाने वाली बच्ची की पहचान पुंछ जिले में बालाकोट की सईदा के रूप में हुई है, जबकि जवान राजौरी जिले के तरकुंडी क्षेत्र में पाकिस्तानी गोलीबारी में शहीद हो गए। रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता लेफ्टिनेंट कर्नल मनीष मेहता ने बताया कि पाकिस्तानी सेना ने पुंछ और राजौरी जिलों के भीम्बर गली, मेंढर और बालाकोट सेक्टरों में बिना किसी उकसावे के गोलीबारी की। गोलीबारी अभी जारी है। भारतीय सेना इसका ‘कड़ाई से व प्रभावी तरीके से’ जवाब दे रही है।

भारत और पाकिस्तान के सैन्य अभियान महानिदेशकों (डीजीएमओ) की हॉटलाइन पर सोमवार को हुई वार्ता के बावजूद गोलीबारी जारी है। डीजीएमओ आम तौर पर मंगलवार को बातचीत करते हैं। सोमवार की वार्ता पाकिस्तान के अनुरोध पर हुई थी और यह पूर्व निर्धारित नहीं थी। भारतीय सेना की ओर से जारी बयान के अनुसार, डीजीएमओ लेफ्टिनेंट जनरल ए.के. भट्ट ने कहा कि ‘संघर्ष विराम के सभी उल्लंघनों’ की शुरुआत पाकिस्तान सेना की ओर से होती है।

बयान में भारतीय डीजीएमओ के हवाले से यह भी कहा गया है कि यहां के जवान सशस्त्र घुसपैठियों के खिलाफ गोलीबारी करते हैं, जो ‘पाकिस्तानी चौकियों के बेहद करीब से’ भारतीय सीमा में दाखिल होने की कोशिश करते हैं। उन्होंने यह भी कहा कि ‘पाकिस्तान की अग्रिम चौकियों के सक्रिय समर्थन से एलओसी पर घुसपैठ की कोशिश होती है।’ बयान में कहा गया है, “भारतीय सेना के पास संघर्ष विराम उल्लंघन की किसी भी घटना का माकूल जवाब देने का अधिकार है। हालांकि यह पारस्परिक आधार पर शांति बनाए रखने के अपने प्रयास को लेकर गंभीर है।”

पाकिस्तान की ओर से केरन सेक्टर में की गई फायरिंग

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on July 17, 2017 5:21 pm

  1. No Comments.
सबरंग