ताज़ा खबर
 

मांझी के बेटे को मिली जमानत, जब्त हुई 4 लाख 65 हजार की रकम

जहानाबाद जिले में रविवार को पुलिस तलाशी के दौरान, 4.65 लाख रुपए लेकर अपनी कार से जा रहे पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी के बेटे प्रवीण कुमार सुमन को हिरासत में ले लिया गया। प्रवीण ने कहा कि वे पटना जा रहे थे और यह राशि वहां एक मकान के निर्माण के लिए थी।
Author , जहानाबाद | September 14, 2015 11:41 am
प्रवीण कुमार सुमन (फोटो: भाषा)

जीतनराम मांझी के बेटे को बिहार पुलिस ने नकदी पैसों को लेकर हिरासत में लिया  था, लेकिन अब मांझी के बेटे प्रवीण को जमानत पर छोड़ रिहा कर दिया गया है। हालांकि प्रवीण के पास से पुलिस ने 4 लाख 65 हजार रुपए बरामद किए हैं। आपको बता दें कि मांझी का बेटा ये रुपए गया से पटना लेकर आ रहा था। उन्हें गया-पटना के बीच मखदूमपुर में हिरासत में लिया गया है।

गौरतलब है कि जहानाबाद जिले में रविवार को पुलिस तलाशी के दौरान, 4.65 लाख रुपए लेकर अपनी कार से जा रहे पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी के बेटे प्रवीण कुमार सुमन को हिरासत में ले लिया था। प्रवीण ने कहा कि वे पटना जा रहे थे और यह राशि वहां एक मकान के निर्माण के लिए थी।

अनुमंडल पुलिस अधिकारी मो. अशफाक अंसारी ने बताया कि प्रवीण इस राशि के बारे में संतोषप्रद जवाब नहीं दे सके। गया-जहानाबाद मुख्य मार्ग पर उमटा गांव के समीप स्थित चेकपोस्ट पर वाहन तलाशी के क्रम में यह राशि बरामद की गई और इसके साथ ही प्रवीण कुमार को हिरासत में ले लिया गया। प्रवीण के खिलाफ मखदुमपुर थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। बत्तीस वर्षीय प्रवीण मांझी की पार्टी ‘हम’ सेकु में किसी पद पर नहीं हैं।

एक पुलिस अधिकारी के मुताबिक प्रवीण से यह राशि सामान्य तलाशी के दौरान पकड़ी गई। तलाशी की यह कार्रवाई चुनाव आचार संहिता लागू होने के बाद की जाने वाली कार्यवाहियों का हिस्सा है। इस समय बीस हजार रुपए तक ले जाने पर कोई कार्रवाई नहीं की जाती। पुलिस अधिकारी के मुताबिक यदि इससे ज्यादा की राशि बरामद हो तो वह पार्टी को तभी लौटाई जाती है जब तीन सदस्यीय समिति के सामने रकम से संबंधित दस्तावेज पेश कर दिए जाएं। इस समिति में चुनाव आयोग, जिला प्रशासन और आयकर विभाग से एक-एक सदस्य होता है।

‘हम’ के प्रवक्ता दानिश रिजवान ने कहा कि मांझी के बेटे ने यह राशि बैंक से निकलवाई थी और रकम एक मकान के निर्माण के लिए थी जो मांझी पटना के हनुमाननगर में बनवा रहे हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने मांझी के परिवार के पीछे जासूस लगवा रखे हैं। हम रकम से जुड़े सभी दस्तावेज पेश कर देंगे।

इस बीच अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी आर लक्ष्मणन ने बताया कि निर्वाचन आयोग द्वारा राज्य में अभियान के दौरान रविवार को करीब 78 लाख रुपए बरामद किए गए। आदर्श आचार संहिता उल्लंघन को लेकर पूर्व विधायक विश्वनाथ प्रसाद सिंह को गिरफ्तार किया और पूर्व सांसद व भाजपा नेता साबिर अली की एक एसयूवी को जब्त करते हुए उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की।

लक्ष्मणन ने बताया कि बरामद राशि में मांझी के बेटे प्रवीण कुमार सुमन के वाहन से बरामद 465000 रुपए भी शामिल हैं। उन्होंने बताया कि वाहन तलाशी के दौरान पटना जिले के अगमकुआं व शाहपुर थाना क्षेत्र से क्रमश: 2500000 रुपए व 1065000 रुपए, मुजफ्फरपुर जिला के सिवायपट्टी व सरैया थाना क्षेत्र से क्रमश: 1150000 रुपए व 200000 रुपए बरामद हुए जिनकी छानबीन पुलिस और आयकर अधिकारियों द्वारा की जा रही है।

पटना के वरीय पुलिस अधीक्षक विकास वैभव ने बताया कि निर्वाचन आयोग के निर्देश पर वाहनों की सघन तलाशी के क्रम में अगमकुआं थाना क्षेत्र में एक कार से 25 लाख रुपए बरामद किए। साथ ही गुजरात के मेहसाना निवासी दो लोगों चंद्रेश पटेल और दिनेश चौधरी सहित उक्त कार में उनके साथ यात्रा कर दो अन्य व्यक्तियों को गिरफ्तार किया।

उन्होंने बताया कि साबिर अली की एसयूवी को अगमकुआं थाना क्षेत्र से जब्त किया गया है, जिस पर बिना निर्वाचन आयोग की अनुमति के उनकी पार्टी का झंडा लगा हुआ था। साबिर के खिलाफ इस मामले में प्राथमिकी दर्ज की गई है। मुख्यमंत्री के सरकारी आवास के समीप अतिविशिष्ट इलाके से सारण जिले के परसा विधानसभा क्षेत्र से पूर्व विधायक विश्वनाथ प्रसाद सिंह को आदर्श आचार संहिता के आरोप में गिरफ्तार किया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. H
    Hari
    Sep 14, 2015 at 8:30 pm
    BJP is entering into alliance with LJP, RLSP, HAM party which are smaller party run by individual leader like Paswan, Kushwaha, Manjhi for fiefdom & dynasty politics. These leaders are permanent headache for BJP who will ask for creamy portfolios later on to am wealth as happened with Paswan & Manjhi who enjo power & amed huge wealth by abusing power in past. So BJP should keep distance from these greedy & corrupt parties. BJP should announce प्लान तो एंड करप्शन इम्मीडिएटेली.
    (0)(0)
    Reply
    सबरंग