ताज़ा खबर
 

फूलों से स्वागत करती घाटी में फिर गरजीं बंदूकें

जम्मू कश्मीर में पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए एक ओर जहां सोमवार को एशिया के सबसे बड़े ट्यूलिप गार्डन को खोला गया वहीं दूसरी ओर आतंकवादियों ने घाटी में ताबड़तोड़ तीन हमले किए जिसमें तीन पुलिसर्मी मारे गए। इसके अलावा दो नागरिक जख्मी हो गए। सोमवार को हमले ऐसे समय में हुए जब मुख्यमंत्री […]
Author April 7, 2015 08:39 am
आतंकवादी हमले में जख्मी सब इंस्पेक्टर गुलाम मुस्तफा को अस्पताल ले जाते पुलिसकर्मी। (फ़ोटो-पीटीआई)

जम्मू कश्मीर में पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए एक ओर जहां सोमवार को एशिया के सबसे बड़े ट्यूलिप गार्डन को खोला गया वहीं दूसरी ओर आतंकवादियों ने घाटी में ताबड़तोड़ तीन हमले किए जिसमें तीन पुलिसर्मी मारे गए। इसके अलावा दो नागरिक जख्मी हो गए। सोमवार को हमले ऐसे समय में हुए जब मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद ने डल झील के किनारे ट्यूलिप गार्डन के खुलने के साथ उम्मीद जताई कि घाटी में इस साल बड़ी संख्या में पर्यटक आएंगे।

सबसे घातक हमला दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिले के आमशीपुरा गांव में हुआ। एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि हेड कांस्टेबल मुश्ताक अहमद और दो कांस्टेबल शबीर हुसैन और नजीर अहमद वानी एक नियमित आपराधिक मामले की जांच करने के लिए गांव गए थे तभी आतंकवादियों ने उन पर हमला कर दिया। अधिकारी के अनुसार, ‘सिपाही निहत्थे थे और सरकारी वाहन से गए थे। हमला दोपहर करीब डेढ़ बजे हुआ।’

इससे पहले एक हमला उत्तर कश्मीर के बारामूला जिले के पाटन इलाके में पूर्वाह्न पौने बारह बजे के आसपास हुआ। आतंकवादियों ने एक यात्री बस में जा रहे पुलिस अधिकारी गुलाम मुस्तफा पर गोलीबारी की जिसमें वे जख्मी हो गए। अधिकारी ने बताया कि चालक बस को एक स्थानीय पुलिस चौकी में ले गया जहां पुलिस ने घायल कर्मी को एसकेआइएमएस भेजा। उनकी हालत स्थिर है।

तीसरा हमला पुलवामा जिले के त्राल में हुआ जहां आतंकवादियों ने दोपहर करीब पौने तीन बजे बजे एक पूर्व आतंकवादी को गोली मार कर गंभीर रूप से घायल कर दिया। हमले में घायल हिज्बुल मुजाहिदीन के पूर्व आतंकवादी रफीक अहमद भट को इलाज के लिए श्रीनगर पहुंचाया गया। अभी तक किसी संगठन ने तीनों हमलों की जिम्मेदारी नहीं ली है।

इस बीच, सेना की पश्चिमी कमान के अधिकारियों ने सोमवार को जम्मू कश्मीर के मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद से मुलाकात की और सुरक्षा हालात व सशस्त्र बल विशेषाधिकार अधिनियम समेत कई अहम सुरक्षा संबंधी मुद्दों पर उनसे चर्चा की।

अधिकारियों ने कहा कि पश्चिमी कमान में जनरल आफिसर कमांडिंग इन चीफ लेफ्टिनेंट जनरल केजे सिंह और 9 कोर के जनरल आॅफिसर कमांडिंग लेफ्टिनेंट जनरल राजीव तिवारी ने सोमवार को यहां मुख्यमंत्री से उनके आवास पर मुलाकात की। अधिकारियों के मुताबिक लेफ्टिनेंट जनरल सिंह ने बैठक में मुख्यमंत्री को अपनी जिम्मेदारी वाले इलाकों में और खासतौर पर जम्मू क्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर सुरक्षा हालात के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि सेना के कमांडर ने जम्मू क्षेत्र में मौजूदा सुरक्षा परिदृश्य पर भी बातचीत की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.