ताज़ा खबर
 

‘जम्मू-कश्मीर में फिर हो चुनाव, मुफ़्ती सरकार से हटे भाजपा’

अन्नाद्रमुक ने आज संसद में मांग की कि भाजपा जम्मू कश्मीर की मुफ्ती मोहम्मद सरकार से समर्थन वापस ले और वहां नए सिरे से चुनाव कराए जाएं। अन्नाद्रमुक के पी. वेणुगोपाल ने लोकसभा में शून्यकाल के दौरान यह मामला उठाते हुए कहा कि जम्मू कश्मीर के मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद की अलगाववादी नेता को रिहा […]
Author March 10, 2015 17:23 pm
Lok Sabha: अन्नाद्रमुक के पी. वेणुगोपाल ने कहा कि प्रदेश में अलगाववादियों को जेलों से रिहा करने पर रोक लगायी जाए। (फ़ाइल फ़ोटो-पीटीआई)

अन्नाद्रमुक ने आज संसद में मांग की कि भाजपा जम्मू कश्मीर की मुफ्ती मोहम्मद सरकार से समर्थन वापस ले और वहां नए सिरे से चुनाव कराए जाएं।

अन्नाद्रमुक के पी. वेणुगोपाल ने लोकसभा में शून्यकाल के दौरान यह मामला उठाते हुए कहा कि जम्मू कश्मीर के मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद की अलगाववादी नेता को रिहा करने और ऐसे ही अन्य दर्जनभर नेताओं की रिहाई का ऐलान करने संबंधी बयान राष्ट्रविरोधी है।

उन्होंने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री राष्ट्रीय हितों के खिलाफ काम कर रहे हैं। उन्होंने मांग की कि भाजपा प्रदेश सरकार से हट जाए और जम्मू कश्मीर में नए सिरे से विधानसभा चुनाव कराए जाएं। उन्होंने साथ ही कहा कि प्रदेश में अलगाववादियों को जेलों से रिहा करने पर रोक लगायी जाए।

उन्होंने कहा कि कल प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने इस संबंध में बयान दिया था जिसमें जम्मू कश्मीर सरकार से स्पष्टीकरण मांगे जाने की बात कही गयी थी।

उन्होंने प्रदेश सरकार से मांगे गए स्पष्टीकरण के बारे में सदन को सूचित कराए जाने की मांग की और साथ ही कहा कि प्रधानमंत्री के बयान के बावजूद मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद ने ऐसे करीब और दर्जनभर अलगाववादी नेताओं और राजनीतिक कैदियों को जेल से रिहा किए जाने का ऐलान किया है।

वेणुगोपाल ने साथ ही कहा कि मुख्यमंत्री ने यह भी कहा है कि उन्हें इस मसले पर किसी से सलाह मशविरा करने की जरूरत नहीं है।

इसी पार्टी के अनवर रजा ने सईद के बयान को गैर जिम्मेदाराना और राष्ट्रविरोधी करार देते हुए मुख्यमंत्री को पद से हटाए जाने की मांग की।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कल लोकसभा में इस मुद्दे पर कहा था कि इस प्रकार की गतिविधि स्वीकार्य नहीं है और देश की एकता अखंडता के लिए जो भी जरूरी होगा उनकी सरकार करेगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग