December 04, 2016

ताज़ा खबर

 

जम्मू-कश्मीर: एलओसी पर पाकिस्तान की ओर से फायरिंग, राजौरी में बीएसएफ जवान शहीद, तीन घायल

पिछले 24 घंटों में पाकिस्तान की ओर से तीसरी बार सीजफायर का उल्लंघन किया गया है।

सीमा पर तैनात सुरक्षा जवान। (PTI: फाइल फोटो)

पाकिस्तानी सेना ने आज जम्मू-कश्मीर के पुंछ और राजौरी जिलों में संघर्षविराम का उल्लंघन किया जिसमें एक नागरिक की मौत हो गयी, जबकि सीमापार से रविवार (20 नवंबर) हुई गोलीबारी में घायल बीएसएफ कांस्टेबल ने आज दम तोड़ दिया। पुलिस के एक अधिकारी ने कहा कि नागरिक की पहचान पुंछ जिले के मेंधर तहसील के बसोनी गांव निवासी अब्दुल अजीज :50: के रूप में हुई है। अजीज उनके घर के पास मोर्टार गिरने से घायल हो गए। इस बीच, रविवार (20 नवंबर) रात पाकिस्तान की ओर से की गए गोलाबारी में घायल बीएसएफ के चार कर्मियों में से हेड-कांस्टेबल राय सिंह (40) की आज (सोमवार, 21 नवंबर) सुबह राजौरी सेक्टर में मृत्यु हो गयी।

बीएसएफ के एक अधिकारी ने कहा, ‘नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान की ओर से कल (रविवार, 20 नवंबर) रात राजौरी इलाके में की गयी भीषण गोलाबारी में बीएसएफ के चार कर्मी छर्रे लगने से घायल हो गए। गंभीर रूप से घायल हेड-कांस्टेबल राय सिंह की आज (सोमवार, 21 नवंबर) मृत्यु हो गयी जबकि अन्य की हालत गंभीर बनी हुई है।’ सिंह हरियाणा के झज्जर जिले के रहने वाले थे। उनके परिवार में पत्नी, मां और तीन बेटे हैं। भारतीय सेना और बीएसएफ ने पाकिस्तान के संघर्ष विराम उल्लंघन का जवाब दिया और अंतिम रिपोर्ट आने तक गोलीबारी जारी थी।

इस संघर्षविराम उल्लंघन से पहले भी पाकिस्तानी सैनिकों ने इससे एक दिन पहले नौशेरा और सुंदरबनी सेक्टरों में नियंत्रण रेखा पर भारतीय चौकियों एवं असैन्य इलाकों को निशाना बनाकर मोर्टार दागे थे और छोटे हथियारों से गोलीबारी की थी जिसमें बीएसएफ का एक जवान और एक महिला घायल हो गए थे तथा दो मकान क्षतिग्रस्त हो गए थे। पाकिस्तानी सेना ने गत शनिवार सुबह नौशेरा सेक्टर में संघर्षविराम का उल्लंघन किया था और उन्होंने दोपहर में भारतीय चौकियों एवं असैन्य इलाकों को निशाना बनाकर सुंदरबनी सेक्टर में गोलीबारी कर थी।

पाकिस्तानी सेना ने गत गुरूवार को जम्मू जिले के पल्लनवाला सेक्टर से लगे गांवों एवं भारतीय चौकियों को निशाना बनाया था। उन्होंने मंगलवार को भी राजौरी में नियंत्रण रेखा के पास चार घंटे तक भारी गोलीबारी एवं गोलाबारी करके भारतीय चौकियों को निशाना बनाया था जिसके बाद भारतीय बलों ने भी जवाबी कार्रवाई की थी।

पाकिस्तानी बलों ने जम्मू कश्मीर में अंतरराष्ट्रीय सीमा एवं नियंत्रण रेखा के पास गोलीबारी एवं गोलाबारी करके संघर्षविराम उल्लंघन की 290 से अधिक घटनाओं को अंजाम दिया है। पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में 29 सितंबर को आतंकी ठिकानों को निशाना बनाकर किए गए लक्षित हमले के बाद से हुई इस प्रकार की घटनाओं में 14 सुरक्षा जवानों समेत 26 लोगों की मौत हुई है।

बाकी ताजा खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें

अस्पताल स्टाफ ने स्ट्रेचर देने से मना किया, पति को रैंप पर खींचती हुई ले गई महिला

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 21, 2016 7:25 am

सबरंग