December 03, 2016

ताज़ा खबर

 

जाकिर नाइक बोले- अगर मैं आतंक फैला रहा होता तो अब तक लाखों आतंकी तैयार कर देता

आईआरएफ पर बैन के बाद एनआईए लगातार छापे मार रही है। एनआइए के एक अधिकारी के मुताबिक अब तक संगठन के 20 परिसरों पर छापेमारी की गई है।

Author नई दिल्ली | November 27, 2016 19:37 pm
जाकिर नाईक ( File Photo)

विवादित इस्लामिक उपदेशक जाकिर नाइक ने रविवार को उन दावों का खंडन किया है, जिसमें कहा गया था कि उनके प्रतिबंधित एनजीओ द्वारा फंड का गलत इस्तेमाल किया गया है। साथ ही उन्होंने आतंकी गतिविधियों में संलिप्त होने के आरोपों को भी खारिज किया। भड़काऊ भाषण देने और आतंक विरोधी कानून यूएपीए के ओरापी नाइक ने कहा कि उन्होंने कई बार एनआईए को सहयोग करने का ऑफर दिया है। अपने भाषणों द्वारा ढाका हमलावर को प्रभावित करने का आरोप झेल रहे नाइक ने कहा कि अगर उन्होंने हिंसा का समर्थन किया होता तो वे मुसलमान नहीं रहते और समर्थन खो देते।

उन्होंने कहा, ‘यह आरोप लगाना गलत है कि कुछ शरारती तत्व जो कि आतंकी ग्रुप से जुड़े हैं वे मेरे भाषण से प्रभावित हुए हैं। अगर मैं सच में आतंक को बढ़ावा दे रहा होता तो क्या मैं अब तक लाखों आतंकी नहीं बना देता। लाखों समर्थकों में से कुछ समाज विरोधी लोग हो सकते हैं जो कि हिंसा करते हैं। लेकिन वे उसको नहीं अपनाते, जो मैंने उनसे कहा है। अगर कोई हिंसा का रास्ता अपनाता है तो वह मुसलमान नहीं है और उसे मेरा समर्थन नहीं मिलेगा।’ नाइक ने यह बात पीटीआई को ई-मेल इंटरव्यू में कही है।

यह पूछे जाने पर कि उनके एनजीओ इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन को बैन किए जाने पर किस तरह के कदम उठाए जाएंगे, तो उन्होंने कहा कि मुंबई और दिल्ली में मेरी टीम इस मुद्दे को लेकर कानूनी विकल्प देख रही थी और जल्द ही कोर्ट जाएगी।

बता दें, आईआरएफ पर बैन के बाद एनआईए लगातार छापे मार रही है। एनआइए के एक अधिकारी के मुताबिक अब तक संगठन के 20 परिसरों पर छापेमारी की गई है। जांच एजेंसी के अधिकारियों का एक दल नाईक के नफरत भरे भाषणों का अध्ययन कर रहा है। अधिकारी ने कहा कि विदेशी चंदा सहित आइआरएफ के वित्तीय लेनदेन और नाईक के संपत्तियों से जुड़े दस्तावेजों की छानबीन की जा रही है।

एनआइए की ओर से जारी विज्ञप्ति के मुताबिक तलाशी अभियान के दौरान नाईक के भाषणों के वीडियो टेप और डीवीडी संपत्त्ति व निवेश, वित्तीय लेनदेन, आइआरएफ और सहयोगी कपंनियों को मिले विदेशी व स्थानीय चंदे सेस संबंधित दस्तावेज और इलेक्ट्रानिक स्टोरेज डिवाइस बरामद किए गए।

वीडियो में देखें- सिमी भारत में चाहता है इस्लामी राज्य, कुरान को ही मानता है संविधान

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 27, 2016 7:37 pm

सबरंग