ताज़ा खबर
 

दुनिया का सबसे लंबा अनशन खत्म, भावुक इरोम शर्मिला बोलीं- बनाना चाहती हूं CM

इंफाल की एक कोर्ट ने दस हजार के निजी मुचलके पर इरोम शर्मिला को जमानत दी।
अनशन तोड़ने के बाद रो पड़ी इरोम शर्मिला (एएनआई फोटो)

 

मणिपुर की ‘आयरन लेडी’ इरोम शर्मिला ने करीब 16 साल से चला आ रहा अपना अनशन मंगलवार को तोड़ दिया। उन्होंने घोषणा की है कि वह मुख्यमंत्री बनना चाहती हैं ताकि वह विवादास्पद ‘अफ्सपा’ को हटा सकें। यह दुनिया में सबसे लंबे समय तक चलने वाला अनशन था। एक सरकारी अस्पताल के एक कमरे को उनके लिए जेल में तब्दील कर दिया गया था, जिसके बाहर 44 वर्षीय मानवाधिकार कार्यकर्ता ने अनशन तोड़ने के लिए अपनी हथेली पर शहद लिया। उस वक्त वह भावुक हो गईं।

सशस्त्र बल विशेष अधिकार अधिनियम :अफ्सपा: के खिलाफ अपने अनशन के दौरान उनकी नाक में लगाई गई एक ट्यूब के जरिए उन्हें जबरन तरल आहार दिया जाता था ताकि उन्हें जीवित रखा जा सके। अब यह ट्यूब हटा दी गई है क्योंकि उन्होंने अनशन तोड़ दिया है।  उन्होंने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘मैं सकारात्मक बदलाव करने के लिए मणिपुर की मुख्यमंत्री बनना चाहती हूं…यदि मैं मुख्यमंत्री बनी तो, पहली चीज मैं यह करूंगी कि अफ्सपा हटाने का काम करूंगी।’’

शर्मिला ने कहा, ‘‘मुझे सत्ता की जरूरत है। मणिपुर की राजनीति इतनी गंदी है कि हर कोई इस बारे में जानता है। लेकिन लोग यह महसूस नहीं करते कि इस गंदगी में लोग भी शािमल हैं।’’ उन्होंने कहा ‘‘मैं अपने साथ 20 निर्दलीय उम्मीदवारों को आने का न्योता देना चाहती हूं और मुख्यमंत्री इबोबी को अपदस्थ करना चाहती हूं।’’प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा, ‘‘श्रीमान प्रधानमंत्री, आपको इस उम्र में अहिंसा की जरूरत है। इस निर्मम कानून :अफ्सपा: के बगैर आप हमसे संपर्क कर सकते हैं। प्रधानमंत्री मोदी को गांधीजी के अहिंसा का मार्ग पर चलने की जरूरत है।’’

उन्होंने कहा कि वह किसी आश्रम में रहेंगी और उन्हें किसी सुरक्षा की जरूरत नहीं है। ‘‘मैं मणिपुर की देवी नहीं कहलाना चाहती। मैं एक मनुष्य हूं।’’  इससे पहले दिन में इंफाल पश्चिम जिला के मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी (सीजेएम) लामखानपाउ तोनसिंग ने अपने आदेश में कहा कि धारा 309 (आत्महत्या की कोशिश) के तहत अपराध जमानती अपराध है इसलिए वह 10,000 रूपये के एक निजी मुचलके पर उन्हें रिहा करने को इच्छुक हैं।मुचलका भरे जाने पर अदालत ने उसे स्वीकार कर लिया और एक रिहाई आदेश जारी किया। उनसे 23 अगस्त को फिर से अदालत में पेश होने को कहा गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. J
    jai prakash
    Aug 10, 2016 at 5:29 am
    अब अनसन का फैसन चल रहा हे जिसको देखो बो ही सोचता की जब केजरीवाल दिल्ली में बेबकुफ़ बना सकता हे तो में क्यों नही
    (0)(0)
    Reply
    1. R
      rahul
      Aug 9, 2016 at 4:34 pm
      युा तक के राष्ट्रपति को जन्मदिन की बधाई का टवीट् करने वाले प्रधानमंत्री जी को समय निकालकर ईरोम को भी अनशन तोड़ने की बधाई देनी थी पर अफसोस मणिपुर में फिलहाल चुनाव नहीं है
      (0)(1)
      Reply
      सबरंग