December 06, 2016

ताज़ा खबर

 

ममता के फ्लाइट विवाद पर इंडिगो की सफाई, कहा- कम नहीं था फ्यूल, एयर ट्राफिक की वजह से हुई देरी

निजी एयरलाइन कंपनी का विमान आधे घंटे से अधिक समय तक शहर के आसमान में चक्कर लगाता रहा था। इस मुद्दे पर टीएमसी ने काफी हंगामा किया।

तृणमूल कांग्रेस ने आरोप लगाया कि यह पार्टी अध्यक्ष ममता बनर्जी को मारने का एक षड्यंत्र था।

टीएमसी की मुखिया और पश्श्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के पटना से कोलकाता लौटते समय इंडिगो विमान में आई दिक्कतों के मुद्दे पर कंपनी ने सफाई पेश की है। इंडिगो की ओर से बयान जारी कर कहा गया कि विमान में फ्यूल की कमी नहीं थी, केवल एयर ट्राफिक की वजह से देरी हुई। कंपनी ने कहा, “पटना से कोलकाता से जा रही इंडिगो फ्लाइट ने कोलकाता एयरपोर्ट पर नॉर्मल लैंडिंग की। फ्लाइट को एयर ट्राफिक की वजह से होल्ड पर रखा गया था।” कंपनी ने आगे कहा, “कैप्टन ने ईंधन की कमी या इमरजेंसी जैसी कोई घोषणा नहीं की थी।”

गौरतलब है कि निजी एयरलाइन कंपनी का विमान आधे घंटे से अधिक समय तक शहर के आसमान में चक्कर लगाता रहा था। इसे लेकर तृणमूल कांग्रेस ने आरोप लगाया कि यह पार्टी अध्यक्ष ममता बनर्जी को मारने का एक षड्यंत्र था। पार्टी की ओर से दावा किया गया कि प्लेन में ईंधन की कमी थी। वहीं, हवाईअड्डा अधिकारियों ने कहा था कि विमान ने निर्धारित समय से एक घंटे देरी से उड़ान भरी और तकनीकी कारणों से आसमान में आधे घंटे से अधिक समय तक चक्कर लगाने के बाद उतर गया। अधिकारियों ने कहा कि किसी भी हवाईअड्डे पर ऐसी घटना कोई नई बात नहीं है।

जांच के आदेश:

इंडिगो फ्लाइट इस मामले को संसद में भी उठाया गया। इस पर बोलते हुए नागरिक उड्डयन मंत्री जयंत सिन्हा ने कहा- “अगर नियम का उल्लंघन हुआ है तो हम उस पर कार्यवाही करेंगे।” उन्होंने कहा, “डीजीसीए ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को लेकर जाने वाली उड़ान सहित कोलकाता जा रहे तीन विमानों में कम र्इंधन होने के मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं।”

वीडियो में देखें- ममता बनर्जी का विमान कम ईंधन के साथ 30 मिनट तक आकाश में उड़ता रहा; पार्टी ने बताया साज़िश, इंडिगो ने दी सफाई

पेट्रोल पंप, एयर टिकट काउंटर पर 2 दिसबंर के बाद नहीं चलेंगे 500 रुपए के पुराने नोट

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on December 1, 2016 1:06 pm

सबरंग