ताज़ा खबर
 

भारत-पाकिस्तान के बीच 2,300 किमी बॉर्डर सील करेगी भारत सरकार

LOC पर सर्जिकल स्ट्राइक के बाद अब एक और बड़ा कदम उठाते हुए भारत पाकिस्तान से जुड़ा अंतर्राष्ट्रीय बॉर्डर सील करने की तैयारी कर रहा है
Author नई दिल्ली | October 5, 2016 14:20 pm
भारत और पाकिस्तान के बीच 2,300 किमी बॉर्डर सील किया जाएगा

सरकार भारत पाकिस्तान के बीच 2,300 किमी सीमा क्षेत्र को सील करने की तैयारी कर रही है। केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह शुक्रवार को जम्मू-कश्मीर, पंजाब, राजस्थान और गुजरात के गृहमंत्रियों से मुलाकात करेंगे। सीमा सील करने के बाद इस क्षेत्र में सामान की आवाजाही, ट्रैफिक और लोगों के आवागमन के लिए 1 से 2 चेकप्वाइंट्स बनाए जाएंगे। इन चेक प्वाइंट्स को पूरे दस्तावेज दिखाने के बाद ही पार किया जा सकेगा। वाघा अटारी बॉर्डर भारत पाकिस्तान के बीच मुख्य चेक प्वाइंट है। बॉर्डर सील करने के इस प्रस्ताव के अंतर्गत वो क्षेत्र आएंगे जिन्हें बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स (BSF) कवर करती है। सेना द्वारा सुरक्षित LOC क्षेत्र इस प्रस्ताव से बाहर होंगे। इस समय दोनों देशों के बीच 2 व्यावसायिक रुट हैं उरी- सलामाबाद और पुंछ- रावलकोट। इस योजना के तहत लोगों और सामान की आवाजाही सिर्फ 1 या 2 चेक प्वाइंट्स से होगी और बाकी सभी आवागमन के रास्तों को बंद किया जाएगा।

इसके अलावा सरकार की यह भी योजना है कि सीमा पर सीसीटीवी, लेजर फेंस और मोशन सेंसर लगाए जाएं। सरकार की यह कोशिश है कि तकनीक का इस्तेमाल करके सीमा की सुरक्षा मजबूत की जाए जिससे पठानकोट जैसे हादसे दुबारा न हों। आपको बता दें कि कुछ समय पहले सीमापार से आए आतंकियों ने पठानकोट में आर्मी के बेस कैंप पर हमला कर दिया था जिसमें कई जवान शहीद हो गए थे। इसके बाद जम्मू-कश्मीर के उरी में भी आतंकियों द्वारा किए गए एक हमले में 19 जवान शहीद हो गए थे। इसके जवाब में हमले के 10 दिन बाद भारतीय सेना ने LOC पर सर्जिकल स्ट्राइक कर 38 आतंकियों को मार गिराया था। इसके बाद सीमा क्षेत्र के सभी गांवों को खाली कराया गया था। सर्जिकल स्ट्राइक के बाद बाद भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ गया था। इस संबंध में मीटिंग राजस्थान के जैसलमेर में होगी जिसमें राजनाथ सिंह के साथ जम्मू-कश्मीर, पंजाब, राजस्थान और गुजरात के गृहमंत्री शामिल होंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग