ताज़ा खबर
 

बिरला, सहारा से नरेंद्र मोदी को पैसे मिलने के आरोपों पर वकील प्रशांत भूषण से सुप्रीम कोर्ट ने कहा- कोई तो ठोस सुराग हो, दो दिन में लेकर आइए

सर्वोच्च अदालत ने कहा कि वो इस मामले को लटकाए नहीं रखना चाहती इसलिए प्रशांत भूषण कोर्ट के सामने 16 दिसंबर तक सबूत पेश करें।
Author December 15, 2016 11:22 am
वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण (File Photo)

सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार (14 दिसंबर) को एक एनजीओ को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत संवैधानिक पद पर बैठे किसी भी व्यक्ति के खिलाफ बगैर ठोस सबूत के आरोप लगाने पर चेतावनी दी। अदालत ने आदित्य बिरला ग्रुप और सहारा समूह की कंपनियों पर पड़े आयकर विभाग के छापे में मिले कागजात के संबंध में बगैर किसी ठोस सबूत के जांच के आदेश देने से मना कर दिया। इन कंपनियों के परिसंपत्तियों पर मारे गए छापे में मिले दस्तावेज में कई नेताओं को पैसे देने का कथित डायर एंट्री मिली थी।

इस मामले में याची एनजीओ ‘कॉमन कॉज’ की तरफ से सुप्रीम कोर्ट में पेश हुए वरीष्ठ वकील प्रशांत भूषण से जस्टिस जेएस केहर और जस्टिस अरुण मिश्रा की पीठ ने कहा, “ये हमारे लिए बहुत असमान्य होता जा रहा है। हमने आप (याची) से कहना चाहते हैं कि….हमें छोटा सा भी सबूत दीजिए। हम इस पर विचार करेंगे….अगर आप ऐसे ही आरोप लगाते रहे तो संवैधानिक पद पर बैठा कोई व्यक्ति काम कैसे करेगा? हमें अभी तक छोटा भी सबूत नहीं मिला है तो आपके आरोपों को पुष्ट करता हो।”

प्रशांत भूषण ने अदालत को कथित तौर पर आदित्य बिरला समूह और सहारा समूह के अधिकारियों द्वारा भेजे ई-मेल का हवाला  दिया जिनके अनुसार गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री और अन्य नेताओं को घूस देने की बात कही गई है। इस पर सुप्रीम कोर्ट की पीठ ने कहा, “आप केवल आरोप लगा रहे हैं…और आरोप लगाने से गलत धारणा बनती है। अगर बगैर किसी सबूत के ऐसे आरोप लगाए जाते रहेंगे तो संवैधानिक पद पर बैठा हुआ कोई व्यक्ति कैसे काम करेगा? हम कार्रवाई जरूर करेंगे लेकिन पहले आप कुछ सबूत लाइए।”

अदालत ने कहा कि वो इस मामले को लटकाए नहीं रखना चाहती इसलिए प्रशांत भूषण कोर्ट के सामने 16 दिसंबर तक सबूत पेश करें। हालांकि भूषण ने कहा कि उन्हें सबूत पेश करने के लिए पर्याप्त समय नहीं दिया जा रहा है। जब भूषण ने अदालत द्वारा इस मामले में दिखाई जा रही जल्दबाजी पर टिप्पणी की तो पीठ ने कहा कि ऐसे आरोप लगाए जाने से किसी व्यक्ति को काम करने में बहुत मुश्किल होती है।

वीडियोः नोटंबदी के बाद वृंदावन के बांके बिहारी मंदिर में इस तरह की जाती है पैसों की गिनती

वीडियोः ‘ऐ ज़िंदगी गला लगा ले’ के नए वर्ज़न में आलिया भट्ट ने किया शाहरुख खान का फेमस पोज़

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग