ताज़ा खबर
 

एक्शन मोड में ED, पंद्रह महीने में जब्त की रिकॉर्ड संपत्ति, इतनी तो 10 साल में भी नहीं हुई

वर्तमान वित्त वर्ष के पहले तीन महीनों में 965.84 करोड़ रुपये जब्त किए गए। सूत्रों के हवाले से बताया कि इस साल 30 जून तक जब्त की गई संपत्ति का कुल आकंड़ा 22,000 करोड़ के आसपास है।
Author नई दिल्ली। | July 30, 2017 20:21 pm
ईडी ने जब्त की रिकॉर्ड संपत्ति (Representative Image)

प्रवर्तन निदेशालय पिछले कुछ महीनों से बेहद एक्टिव नजर आ रहा है। सरकार की ओर से जारी आंकडें भी कुछ इसी ओर इशारा करते हैं। ईडी ने पिछले 15 महीनों में करीब 12,000 करोड़ की संपत्ति जब्त की है। ईडी द्वारा 15 महीने में जब्त की गई संपत्ति साल 2005 से लेकर एक दशक के बीच जब्त की गई संपत्ति से भी अधिक है। शुक्रवार को वित्त राज्य मंत्री संतोष सिंह गंगवार ने लिखित जवाब में बताया कि प्रवर्तन निदेशालय ने प्रोविजनल अटैचमेंट ऑर्डर जारी करने के बाद करीब 11,032.72 करोड़ की संपत्ति जब्त की है। अगर साल 2005 से 2015 के बीच जब्त की संपत्ति से तुलना की जाए तो इस दौरान 9003.26 करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त की है। यह डेटा ईडी की वेबसाइट पर दिया गया है।

वर्तमान वित्त वर्ष के पहले तीन महीनों में 965.84 करोड़ रुपये जब्त किए गए। टाइम्स ऑफ इंडिया के अपने सूत्रों के हवाले से बताया कि इस साल 30 जून तक जब्त की गई संपत्ति का कुल आकंड़ा 22,000 करोड़ के आसपास है। जब्त संपत्ति के आंकड़ों में उछाल विजय माल्या के केस के बाद आया, जिसमें की करीब दस हजार करोड़ की संपत्ति जब्त की गई। आंकड़ें बताते है कि कुल सर्च का आधे से ज्यादा और कुल गिरफ्तारियों की एक तिहाई अरेस्ट इन 15 महीने में हुआ है। इनमें से कुछ हाई प्रोफाइल मामले और छापेमारी तमिलनाडु में हुई। सूत्रों के मुताबिक प्रवर्तन निदेशालय ने अपने अधिकारियों को गलत ढंग से कमाए गए पैसों पर कार्रवाई करने के लिए खूली छूट दी हुई है। यही वजह है कि पिछले 15 महीनों में ईडी द्वारा जब्त की गई संपत्ति का आंकड़ा बढ़ा है।

बता दें कि बीते दिनों प्रवर्तन निदेशालय की ओर से की जा रही कार्रवाई में तेजी देखने को मिली है। ईडी ने हाल ही में आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव और उनके परिवार पर शिकंजा कसा था। ईडी ने लालू और उनके परिवार के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया है। लालू पर आरोप है कि रेलमंत्री रहने के दौरान उन्‍होंने रेलवे की होटलों को औने-पौने दामों में चलाने का ठेका दिया था। ईडी ने दिल्‍ली में लालू, राबड़ी देवी, तेजस्‍वी और अन्‍य के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. B
    bitterhoney
    Jul 30, 2017 at 11:28 pm
    जिन व्यक्तियों की संपत्ति ज़प्त हुई है उनका नाम सरकार को तुरंत उजागर करना चाहिए.क्या इनमें किसी बीजेपी नेता का भी नाम है?
    (0)(0)
    Reply