January 24, 2017

ताज़ा खबर

 

किसी भी चुनौती का मुंहतोड़ जवाब देने के लिए तैयार, सेना बात नहीं काम करेगी: वायु सेना प्रमुख

राहा ने कहा कि आतंकवादी हमेशा कुछ बेहतर हो सकते हैं लेकिन सशस्त्र बल उन्हें समाप्त करने में सक्षम हैं।

Author हिंडन एयरबेस | October 8, 2016 19:08 pm
गाजियाबाद के हिंडन वायु सेना स्टेशन पर भारतीय वायु सेना के 84वें स्थापना दिवस पर ‘गार्ड ऑफ ऑनर’ का निरीक्षण करते एयर चीफ मार्शल अरूप राहा। (PTI Photo by Atul Yadav/8 Oct, 2016)

नियंत्रण रेखा के पार लक्षित हमलों को लेकर राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप के बीच वायु सेना प्रमुख अरूप राहा ने शनिवार (8 अक्टूबर) को कहा कि सशस्त्र बल बात नहीं करेंगे बल्कि काम करेंगे। उन्होंने कहा कि बल देश के सामने किसी भी चुनौती का मुंहतोड़ जवाब देने के लिए तैयार हैं। एयर चीफ मार्शल राहा ने यहां कहा, ‘देश में इस मुद्दे पर बहुत बात हो चुकी है। समाज का हर वर्ग इस पर अपनी राय दे रहा है। सशस्त्र बलों से देश की अपेक्षा के अनुरूप परिणामों की उम्मीद की जाती है। हम इस बारे में बात नहीं करेंगे, हम केवल काम करेंगे।’
उनके बयान पाकिस्तान द्वारा लगातार संघर्ष विराम उल्लंघन और कश्मीर में आतंकी हमलों, खासतौर पर 29 सितंबर को सेना के लक्षित हमलों की पृष्ठभूमि में आए हैं। इन हमलों को लेकर विपक्ष ने सरकार पर राजनीतिक लाभ उठाने का आरोप लगाया है।

वह राजधानी दिल्ली से करीब 30 किलोमीटर दूर गाजियाबाद के हिंडन वायु सेना स्टेशन पर भारतीय वायु सेना के 84वें स्थापना दिवस समारोह को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान लड़ाकू विमानों ने शानदार करतब दिखाए। विमानों के प्रदर्शन के दौरान पहली बार स्वदेश निर्मित हल्के लड़ाकू विमान ने अपने करतब दिखाए जिस पर मौजूद दर्शकों ने जमकर तालियां बजाईं। समारोह में अपने परंपरागत भाषण में वायु सेना प्रमुख ने कहा, ‘आज दुनिया संक्रमण काल से गुजर रही है। उरी और पठानकोट में आतंकवादी हमले उस मुश्किल वक्त की तरफ इशारा करते हैं, जिसमें हम रह रहे हैं।’

वायु सेना के शनिवार को जारी आधिकारिक फेसबुक पेज ‘इंडियन एयर फोर्स, पॉवर टू पनिश’ पर अपने संदेश में वायु सेना प्रमुख ने कहा कि वायुसेना अपने कुछ अत्याधुनिक हथियारों और उपकरणों को संचालित कर रही है और जांबाज सैनिक आसमान पर सतत नजर रख रहे हैं। राहा ने कहा, ‘हम किसी भी खतरे का सामना करने का प्रशिक्षण देते रहते हैं और किसी भी चुनौती का पूरी तरह मुंहतोड़ जवाब देने के लिए तैयार हैं।’

बाद में पाकिस्तान से बढ़ते खतरों के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि सशस्त्र बल किसी भी चुनौती का सामना करने के लिए तैयार हैं। वह उन खतरों का जिक्र भी कर रहे थे जिनमें पाकिस्तान आतंकवादियों के जरिये भारत के खिलाफ एक तरह का छद्म युद्ध छेड़ रहा है। राहा ने कहा कि आतंकवादी हमेशा कुछ बेहतर हो सकते हैं लेकिन सशस्त्र बल उन्हें समाप्त करने में सक्षम हैं। उन्होंने कहा कि हर घटना के साथ बल स्मार्ट होते जा रहे हैं और नयी चीजें सीख रहे हैं। वायु सेना की स्थापना आठ अक्तूबर, 1932 को हुई थी और इस दिन वायु सेना दिवस मनाया जाता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 8, 2016 7:08 pm

सबरंग