ताज़ा खबर
 

जमानत याचिका में हनीप्रीत बोलीं- ड्रग्स माफियाओं से है जान का खतरा, कोर्ट ने कहा- तो सरेंडर कर दो

हनीप्रीत की अग्रिम जमानत याचिका पर कोर्ट ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है।
बलात्कारी बाबा राम रहीम की मुंहबोली बेटी हनीप्रीत। (Photo Source: Indian Express Archive)

जेल में बंद बलात्कारी बाबा राम रहीम सिंह की मुंहबोली बेटी हनीप्रीत ने दिल्ली हाईकोर्ट में लगाई अग्रिम जमानत याचिका में कहा है कि पंजाब और हरियाणा के ड्रग्स माफिया उसके पीछे लगे हुए हैं और उसकी जान को खतरा है। हनीप्रीत ने सोमवार को दिल्ली हाईकोर्ट का रुख किया था। दिल्ली हाईकोर्ट में हनीप्रीत के वकील की ओर से अग्रिम जमानत की याचिका लगाई गई थी। याचिका में हनीप्रीत ने कहा है, ‘वह साफ सुथरी छवि की अकेली जीवनयापन करने वाली महिला हूं। मैं कानून का पालन करती हूं और डेरा सच्चा सच्चा के प्रमुख के मामले की जांच में सहयोग करना चाहती हूं।’

हनीप्रीत की जमानत याचिका पर मंगलवार को कोर्ट ने सुनवाई की। सुनवाई करते हुए दिल्ली हाईकोर्ट ने हनीप्रीत के वकील से पूछा कि आपने जमानत की याचिका दिल्ली हाईकोर्ट में क्यों लगाई है। इसके जवाब में उसके वकील ने कहा कि हनीप्रीत का दिल्ली में भी घर है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कोर्ट ने हनीप्रीत से कहा है कि वह सरेंडर कर दे। हालांकि, कुछ रिपोर्ट्स के मुताबिक कोर्ट ने याचिका पर फैसले को सुरक्षित रख लिया है।

बाबा राम रहीम अभी रोहतक की सुनेरिया जेल में 20 साल की सजा काट रहा है। राम रहीम को सीबीआई कोर्ट ने दो साध्वियों के साथ रेप करने का दोषी करार दिया था। इसके बाद 28 अगस्त को उसे 20 साल की सजा सुनाई थी। बाबा को सजा सुनाए जाने के बाद से हनीप्रीत फरार चल रही है। पुलिस उसे तलाशने के लिए जगह-जगह छापे मार रही है। इसके बाद कुछ रिपोर्ट्स आई थीं कि हनीप्रीत नेपाल में छुपी हुई है। नेपाल में भी तलाश की गई।

दिल्ली हाईकोर्ट में जमानत की याचिका लगाने के बाद हरियाणा पुलिस ने जेल में बंद हनीप्रीत इंसां को गिरफ्तार करने के लिए दिल्ली के कई स्थानों पर छापेमारी की। गुरमीत राम रहीम को बलात्कार के दो मामलों में दोषी करार दिए जाने के बाद भड़की हिंसा के संबंध में हनीप्रीत के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया था। पुलिस ने बताया कि हनीप्रीत और डेरा के दो अन्य पदाधिकारियों का पता लगाने के लिए कई स्थानों पर छापेमारी की जा रही है। हालांकि पुलिस ने उन स्थानों के नाम नहीं बताए जहां छापे मारे जा रहे हैं। दिल्ली पुलिस ने बताया कि पंचकूला पुलिस की एक टीम हनीप्रीत के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट लेकर आई थी। उसे गुप्त सूचना मिली थी कि हनीप्रीत दक्षिणी दिल्ली के ग्रेटर कैलाश के ए ब्लॉक स्थित एक घर में मौजूद है।

दक्षिण-पूर्वी दिल्ली के पुलिस उपायुक्त रोमिल बानिया ने कहा कि हालांकि छापेमारी से कुछ भी प्राप्त नहीं हुआ। संबंधित घर में छापेमारी सुबह सात बजकर 30 मिनट पर हुई और वहां सिर्फ मकान का केयरटेकर मिला। बानिया ने बताया कि यह घर डेरा सच्चा सौदा के नाम पर पंजीकृत है। पुलिस ने कहा कि जो भी व्यक्ति इन लोगों की गिरफ्तारी कराने वाली जानकारी मुहैया कराएगा, उसे इनाम दिया जाएगा और उसकी पहचान भी गुप्त रखी जाएगी। हरियाणा पुलिस ने बताया कि पंचकूला में हुई हिंसा के संबंध में पंचकूला की एक अदालत ने कल हनीप्रीत इंसां, डेरा प्रवक्ता आदित्य इंसां और डेरा के शीर्ष पदाधिकारी पवन इंसां के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग