ताज़ा खबर
 

सामने आई हिजबुल मुजाहिदीन के नए आतंकियों की तस्‍वीर, पीओके में चल रही है ट्रेनिंग

यह तस्‍वीर हिजबुल कमांडर और बुरहान वानी के उत्‍तराधिकारी, सबजार भट को त्राल क्षेत्र में सुरक्षा बलों द्वारा मार गिराए जाने के कुछ ही दिन बाद सामने आई है।
हिजबुल मुजाहिदीन के नए बैच की तस्‍वीरें वायरल हो रही हैं। (Source: ANI)

कुख्‍यात आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन ने अपने आतंकियों के हालिया बैच की तस्‍वीर जारी की है। बुधवार को जारी की गई ये तस्‍वीर इंटरनेट पर वायरल हो गई है। न्‍यूज एजंसी एएनआई द्वारा पोस्‍ट की फोटो में आतंकी कथित तौर पर पाकिस्‍तान के कब्‍जे वाले कश्‍मीर के मुजफ्फराबाद के एक कैंप में ट्रेनिंग लेते दिख रहे हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, करीब 27 आतंकियों को ट्रेनिंग दी जा रही है, जो भारत में घुसपैठ के इंतजार में हैं। आपको बता दें कि यह तस्‍वीर हिजबुल कमांडर और बुरहान वानी के उत्‍तराधिकारी, सबजार भट को त्राल क्षेत्र में सुरक्षा बलों द्वारा मार गिराए जाने के कुछ ही दिन बाद सामने आई है। पिछले कुछ सप्‍ताह में भारतीय सेना ने घुसपैठ की कई कोशिशों को नाकाम किया है। ऐसे ही एक ऑपरेशन में, शनिवार (27 मई) को पुलवामा के त्राल में सबजार भट को मार गिराया था। उससे ठीक पहले, शुक्रवार को सोइमोह गांव में हुई एक मुठभेड़ में फैज़ान नाम का एक और आतंकी भी मार गिराया गया था।

सेना की उत्‍तरी कमान के प्रवक्‍ता ने ऑपरेशन के बाद जारी बयान में कहा, ”सुरक्षा बलों द्वारा चलाए गए लगातार ऑपरेशंस से पाकिस्‍तान और पाकिस्‍तान प्रायोजित एजेंट्स की घाटी में आतंक फैलाने की कोशिशें नाकाम हुई हैं।” सबजार भट के मारे जाने के बाद कश्‍मीर घाटी के कई इलाकों में कर्फ्यू लगा दिया गया था। भट को A++ श्रेणी का आतंकी माना जाता था। उसकी मौत की खबर फैलने के बाद घाटी में कई जगह प्रदर्शन और पत्‍थरबाजी की घटनाएं हुई थीं।

पुलिस के एक प्रवक्ता ने कहा कि घाटी में हिंसा की आशंका वाले कुछ क्षेत्रों में चार से अधिक लोगों के इकट्ठा होने पर पाबंदी लगाई गई है। प्रवक्ता ने कहा, “दक्षिण कश्मीर के पुलवामा के तनहाब गांव में पत्थरबाजी की एक घटना को छोड़ दें, तो पूरी घाटी में हालात शांतिपूर्ण तथा नियंत्रण में रहे।” उन्होंने कहा, “बदमाशों के एक समूह ने केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के एक शिविर पर पथराव किया।”

वरिष्ठ अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी तथा मीरवाइज उमर फारूक को नजरबंद कर दिया गया है। वहीं जम्मू एवं कश्मीर लिबरेशन फ्रंट (जेकेएलएफ) प्रमुख मुहम्मद यासीन मलिक को रविवार को गिरफ्तार करने के बाद केंद्रीय कारा भेज दिया गया।

संबंधित वीडियो देखें: 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.