ताज़ा खबर
 

नोटबंदी और रिलायंस जियो की दोहरी मार से टेलीकॉम सेक्टर में घटीं 40 प्रतिशत हायरिंग

कंपनियां रिक्रूटमेंट्स पर ज्यादा पैसा न खर्च कर उसे सुरक्षित रखना चाहती हैं
प्रतिकात्मक तस्वीर

रिलायंस जियो की एंट्री के बाद शुरू हुई प्राइस वॉर के कारण देश के टेलीकॉम सेक्टर की हायरिंग में इस साल 40 प्रतिशत की गिरावट आई है। इसकी वजह यह भी है कि कंपनियां रिक्रूटमेंट्स पर ज्यादा पैसा न खर्च कर उसे सुरक्षित रखना चाहती हैं। अॉपरेशंस और रिक्रूटर्स का कहना है कि सेक्टर को गंभीर आर्थिक तनाव से उबरने के लिए आने वाले एक साल में नई भर्तियों को लेकर सजग रहना होगा। एक्सपर्ट्स के मुताबिक 31 मार्च 2017 को मिलने वाले इंक्रीमेंट भी पिछले साल की तुलना में औसतन 9 प्रतिशत कम रहेगा।

एबीसी कंसलटेंट्स के एग्जीक्युटिव डायरेक्टर विवेक मेहता के मुताबिक साल 2016 की हायरिंग में 30-40 प्रतिशत की गिरावट रहेगी और आने वाली तिमाही में भी स्थिति एेसी ही बनी रहेगी। मेहता ने कहा कि यह एक अस्थिर क्षेत्र है और जियो की एंट्री के बाद अधिकारियों पर बहुत ज्यादा प्रेशर है। उन्होंने कहा कि हमें नहीं लगता कि आने वाले 6 महीने में यह तनाव कम होने वाला है। रेटिंग एजेंसी आईसीआरए की हाल ही में कराई गई स्टडी में सामने आया है कि मुकेश अंबानी द्वारा 31 मार्च 2017 तक रिलायंस जियो की फ्री सर्विसेज बढ़ाने के एेलान और नोटबंदी के कारण  टेलीकॉम सेक्टर का 5-7 प्रतिशत राजस्व नष्ट होने का अनुमान है।

एक्सपर्ट्स के मुताबिक नोटबंदी से स्मार्टफोन की बिक्री में 50 प्रतिशत की गिरावट देखी गई है, जिससे टेलीकॉम कंपनियों की डेटा सर्विसेज की डिमांड पर सीधा असर पड़ने के संकेत हैं। वहीं कॉम्पिटिशन  बढ़ने से डेटा रेवेन्यू ग्रोथ में भी गिरावट देखी गई है। देश की तीसरी सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी आईडिया के चीफ ह्यूमन रिसोर्स अॉफिसर विनय राजदान कहते हैं कि वित्त वर्ष 2016 में ज्यादा हायरिंग और अब जियो की एंट्री से  वित्त वर्ष 2017 में हायरिंग मध्यम रह सकती है। वहीं दूसरी सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी वोडाफोन का कहना है कि वह टेक्नॉलजी, बिजनेस टू बिजनेस (बीटूबी) और डिजिटल सेग्मेंट्स में हायरिंग करने पर विचार करेगी। कंपनी का कहना है कि जैसे जैसे उसका बिजनेस विकसित होगा उसे डिजिटल, बिग डेटा जैसे विभागों में लोगों की जरूरत होगी।

इसके अलग एयरटेल का मानना है कि उसने 2016 में अपने हर सेग्मेंट और वर्टिकल में लोगों की भर्तियां की हैं, जिसमें फ्रेश ग्रैजुएट्स भी शामिल हैं। कंपनी के प्रवक्ता ने कहा कि हम राष्ट्रीय स्तर पर एयरटेल पेमेंट बैंक का विकास कर रहे हैं और हम अलग-अलग विभागों में लोगों की भर्तियां करेंगे।

 

केरल: राष्ट्रगान के दौरान खड़े न होने पर पुलिस ने 6 लोगों को किया गिरफ्तार ः

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग