ताज़ा खबर
 

प्रख्यात शास्त्रीय गायिका किशोरी अमोनकर का 84 वर्ष की उम्र में निधन

किशोरी अमनोकर अंतिम समय तक शास्त्रीय संगीत में सक्रिय रहीं। उन्होंने अपना आखिरी कार्यक्रम पिछले हफ्ते किया था।
किशोरी अमोनकर को शास्त्रीय संगीत की विलक्षण प्रतिभाओं में शुमार किया जाता है।

प्रख्यात शास्त्रीय गायिका किशोरी अमोनकर का मध्यरात्रि से पहले निधन हो गया। पारिवारिक सूत्रों ने मंगलवार (चार अप्रैल) को उनके निधन की जानकारी दी। वह 84 वर्ष की थीं। उन्होंने दादर पश्चिम स्थित अपने घर पर आखिरी सांसें लीं। वह जयपुर घराने से ताल्लुक रखती थीं। उन्हें पद्मविभूषण और साहित्य अकादमी अवॉर्ड से नवाजा जा चुका है। वो अंतिम समय तक शास्त्रीय संगीत में सक्रिय रहीं। उन्होंने अपना आखिरी कार्यक्रम पिछले हफ्ते दिल्ली के कमानी ऑडिटोरियम में किया था।

उनके पति की पहले ही मौत हो चुकी थीं। उनके दो बेटे और पोते-पोतियां हैं। किशोरी के निधन पर दिग्गज गायिका लता मंगेशकर ने कहा कि उन्हें अमोनकर के निधन की खबर सुनकर बहुत दुख हुआ। मंगेशकर ने कहा, “वह बहुत ही अद्भुत शास्त्रीय गायिका थीं। उनके निधन से संगीत की दुनिया को भारी क्षति हुई है।” अमोनकर का अंतिम संस्कार मंगलवार शाम को शिवाजी पार्क शवदाह गृह में होगा।

अमोनकर की शिष्या नंदिनी बेडेकर के बेटे गांधार बेडेकर ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया, “उन्होंने सोमवार रात नौ बजे खाना खाया और सोने चली गईं। करीब 10 मिनट बाद उन्हें ठंड लगे लगी तो डॉक्टर को बुलाया गया।” कुछ देर बाद उनका निधन हो गया। अमोनकर ने शास्त्रीय संगीत की शिक्षा अपनी मां मोगुबाई कुर्दीकर से ली थी जो जयपुर अतरौली के उस्ताद ल्लादिया खान के घराने की गायिका थीं।

अमोनकर को राग-रागिनियों पर उनकी महारत और उन्हें बारीकी के साथ निभाने के लिए जाना जाता है। उन्हें हिंदुस्तानी शास्त्रीय संगीत की सर्वकालिक महान गायक-गायिकाओं में शुमार किया जाता है। वो संगीत को पूर्णता की हद तक प्रेम करती थीं और छोटी सी भी त्रुटी उन्हें बर्दाश्त नहीं थी। उनके निधन के साथ ही हिंदुस्तानी शास्त्रीय संगीत का एक अध्याय समाप्त हो गया।

वीडियो: NIRF Ranking 2017: टॉप 10 यूनिवर्सिटी में शामिल जेएनयू, मिरांडा हाउस भारत का टॉप कॉलेज

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग