ताज़ा खबर
 

विरोध के बावजूद 12 साल बाद एक हुआ हिंदू-मुस्लिम जोड़ा, परिवार ने कहा- नहीं है यह ‘लव जिहाद’

शकील से शादी करके ही अशिता ने अपना धर्म बदला और वह शाइस्ता बन गईं। 12 अप्रैल को निकाह के दौरान हिंदू संगठन अशिता के घर के बाहर डेरा जमाए विरोध करते रहे और अंदर निकाह पढ़ा जाता रहा।
Author नई दिल्ली/ मैसूर (कर्नाटक) | April 19, 2016 08:55 am
विरोध के वाबजूद परवान जड़ा हिंदु-मुस्लिम का प्यार

कर्नाटक के मैसूर में हिंदू संगठनों की धमकियों के बीच हिंदू युवती और मुस्लिम युवक ने प्रेम विवाह कर लिया। मैसूर की अशिता बाबू और शकील अहमद एक दूसरे से 12 साल से प्‍यार करते थे और शादी करना चाहते थे। अब दोनों ने शादी कर ली। इस बीच बजरंग दल जैसे हिंदूवादी संगठन विरोध में अड़े रहे।

शकील से शादी करने के लिए एक सप्‍ताह पहले अशिता ने अपना धर्म बदला और वह शाइस्ता बन गईं। 17 अप्रैल को निकाह के दौरान हिंदू संगठन अशिता के घर के बाहर डेरा जमाए विरोध करते रहे और अंदर निकाह पढ़ा जाता रहा। दोनों के प्यार का बजरंग दल और हिंदू संगठनों ने विरोध भी किया लेकिन परिवार शादी पर अड़ा रहा।

अशिता और शकील कर्नाटक के मंड्या में पड़ोसी थे। लेकिन शकील का परिवार बाद में दूसरी जगह शिफ्ट हो गया। अशिता और शकील ने स्कूल और कॉलेज की पढ़ाई साथ ही की थी। दोनों ने एमबीए साथ में पूरा किया। दोनों के परिवारों को भी शादी पर आपत्ति नहीं थी, लेकिन कुछ संगठन इसे ‘लव जिहाद’ बताते हुए प्रदर्शन करने लगे। पुलिस ने मंड्या में 2 प्रदर्शनकारियों को अरेस्ट भी किया। हिंदू संगठनों के विरोध के बीच दोनों परिवारों को सामाजिक कार्यकर्ताओं का काफी समर्थन मिला।

शादी के बाद कर्नाटक में वीएचपी सेक्रेट्री बी सुरेश ने कहा- यह लव जिहाद है। अगर यह प्यार है तो हमें कोई आपत्ति नहीं, लेकिन यह मामला जबरदस्ती का लग रहा है।

लेकिन, दोनों परिवारों ने इन विरोध प्रदर्शनों को अपने सेलिब्रेशन में रोड़ा नहीं बनने दिया। अशिता के पिता नरेंद्र बाबू एक डॉक्टर हैं उन्होंने शादी स्थल पर जाते हुए कहा- भारत में हम सब समान हैं। लिहाजा यह विरोधियों को संदेश है। उन्हें यह समझना चाहिए। जब सब जश्न मना रहे हों और सिर्फ 0.01 फीसदी लोग विरोध कर रहे हों तो फर्क क्या पड़ता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. A
    Amar pratap
    Apr 18, 2016 at 2:52 pm
    Mcwali ko pta chlega sadee ke bad abhi to pyar prwan chth rha hoga Girls ne religion change ki Mulla kyo nhi mc pyar nhi baba ji ka ghanta hai @ Bap mc doctor bnte phir rha bhruwa mc Hijra beta bhi paida kiya hoga isliye behan ko mulla psand aya or Snatan jaise dharm ko jhorkr mullo ki dharm apna lee bc
    (0)(1)
    Reply
    1. सूफी मकसूद
      Apr 18, 2016 at 3:03 pm
      शादी बिलकुल निजी मुआा है .इस मैं किसी गैर को दखल किया..मगर मैं फिर चाहूंगा नफरत फैलाने का मोका ना दो
      (0)(0)
      Reply
      1. M
        Mohiyuddin
        Apr 18, 2016 at 9:33 pm
        तुम लोग बाबाजीका घंटा हीलाते रहो
        (0)(0)
        Reply
        1. Z
          zulqarnain arshi
          Apr 19, 2016 at 8:53 am
          Yamari सोच है की बजरंगदल जैसे संगठनों को अपने अंदर झाकने की ज़रूरत है इन्ही संगठनों के कारण देश का माहौल दिन ब दिन ख़राब होता जा रहा है
          (0)(0)
          Reply
          1. A
            akbar ali
            Apr 21, 2016 at 9:19 am
            इनके फैमिली वाले सब है क्या बजरंग दल वालो का
            (0)(0)
            Reply
            1. A
              akbar ali
              Apr 21, 2016 at 9:18 am
              बजरग दल वाले हर बात पे मुंह फार देते है
              (0)(0)
              Reply
              1. A
                Ashish
                Apr 19, 2016 at 2:47 am
                क्या अपने एक बार भी पाकिस्तान में रह रहे हिन्दुओ के बारे में दिखाया शादी के लिए एक लड़की धर्मपरिवर्तन कर शाइस्ता बन जाती है शादी है ठीक प्यार में धर्म परिवर्तन क्यों इंडियन एक्सेप्रेस्स और जनसत्ता जेसी न्यूज़ इस्लामीकरण को बढ़ाबा दे रहे है जिन्होंने इस देश को काफी नुकसान पहुँचाया
                (0)(0)
                Reply
                1. G
                  goverdhan
                  Apr 18, 2016 at 6:53 am
                  आप लिखते है .......... प्यार का बजरंग दल और हिंदू संगठनों ने विरोध भी किया लेकिन परिवार शादी पर अड़ा रहा और आखिर में जातिवाद का विरोध करने वालों को ठेंगा दिखा दोनों शादी करके माने। संपादक महोदय.............. ये जातिवाद का नहीं साम्प्रदायिकता का माा है.ये हिन्दुओ के धार्मिक माो का सवाल है.
                  (1)(0)
                  Reply
                  1. G
                    goverdhan
                    Apr 18, 2016 at 6:50 am
                    हिन्दुओ की लड़कियों का धर्मांतरण का षड्यंत्र है इस माे में लड़की का ब्रेन वाश किया गया है.
                    (1)(0)
                    Reply
                    1. G
                      goverdhan
                      Apr 18, 2016 at 6:54 am
                      १०० ntage लव ZIHAAD HAI ये.
                      (0)(1)
                      Reply
                      1. P
                        Piyush
                        Apr 18, 2016 at 3:38 pm
                        किसी को किसी के व्यकिगत विषयमें हस्तक्षेप का बिलकुल ही अधिकार नहीं है. परन्तु अगर प्यार ही था तो धर्म परिवर्तन और नाम बदलना किस चीज़ का परिचायक है. वैसे भी हमारे देश में दो विभिन्न सम्प्रदाय के व्यक्तियों के विवाह के लिए स्पेशल मैरिज एक्ट १९५६ का प्रावधान है. अगर स्थिति ऐसे उलट होती तो क्या ऐसी ही परिस्थितियां होती , बिलकुल नहीं. बिहार के विशाल जिले में एक हिन्दू लड़के ने जब मुस्लिम लड़की से शादी की , तोह उसे मौत मिली. अगर हर समाज इसे स्वीकार्य समझे तब तो ठीक है , अन्यथा एकतरफा सोच बहुत ही खतरन ha
                        (0)(0)
                        Reply
                        1. S
                          saddam
                          Apr 19, 2016 at 4:47 am
                          अमर प्रताप चूस ले मेरा ..............?
                          (0)(0)
                          Reply
                          1. S
                            saddam
                            Apr 19, 2016 at 4:53 am
                            बाबा जी का ठुलो है
                            (0)(0)
                            Reply
                            1. S
                              satya
                              Apr 18, 2016 at 7:33 am
                              गोवर्धन भाई. .. कभी अपनी बहनो के दिल की भी सुन लिया करो हिंदुस्तानी होना ही काफी है हमारे संष्कार एक जैसे ही है
                              (1)(0)
                              Reply
                              1. S
                                satya
                                Apr 18, 2016 at 7:30 am
                                जब मिया बीवी राजी तो क्या करेगा काजी
                                (0)(0)
                                Reply
                                1. Load More Comments
                                सबरंग