ताज़ा खबर
 

अब वायरल हो रहा ओम पुरी के ‘पूरी दुनिया को इस्लाम कबूल लेना चाहिए’ वाले बयान का असली वीडियो

ओम पुरी यह इंटरव्यू साल 2014 में दिया था। 27 मार्च 2014 में दिए गए इस इंटरव्यू में ओम पुरी ने इस्लाम के बारे में यह बयान किसी और संदर्भ में दिया था।
Author नई दिल्ली | October 22, 2016 17:40 pm
ओम पुरी ने शहीद नितिन यादव पर दिए गए अपने बयान पर मांफी मांग ली थी

उरी हमले शहीद में शहीद हुए नितिन यादव पर विवादित टिप्पणी के बाद अभिनेता ओम पुरी की सोशल मीडिया पर जमकर खिंचाई की गई थी। इसके बाद से ही ओम पुरी की चौतरफा आलोचना की जा रही थी। इसके बाद ओम पुरी का एक नया वीडियो सामने आया जो सोशल मीडिया पर खूब शेयर किया गया। इस वीडियो में ओम पुरी एक पाकिस्तानी टीवी चैनल ‘आवाज’ को  इंटरव्यू देते हुए दिखाई दे रहे हैं। इस वीडियो में ओम पुरी यह कहते हुए नजर आ रहे हैं कि ‘पूरी दुनिया जो है इस्लाम कबूल करे,और किसी तरह का धर्म नहीं होना चाहिए और इस्लाम ही सबसे बड़ा मजहब है।’ इस वीडियो के आधार पर ओम पुरी को हिंदू विरोधी, देशविरोधी, पाकिस्तान परस्त बताया गया, लेकिन अब एक और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

अब वायरल हो रहे वीडियो से ऐसा लगता है कि ओम पुरी की बात को गलत संदर्भ में पेश किया गया था। दरअसल यह वीडियो दो साल पुराना है। ओम पुरी ने यह इंटरव्यू साल 2014 में दिया था। 27 मार्च 2014 में दिए गए इस इंटरव्यू में ओम पुरी ने इस्लाम के बारे में यह बयान किसी और संदर्भ में दिया था।इस इंटरव्यू के दौरान जब एंकर ने ओम पुरी से पूंछा कि भारत और पश्चिमी देशों में मुस्लिमों की कैसी छवि है? इस पर पुरी ने कहा, ‘मुस्लिम बहुत कट्टर हैं। वे चाहते हैं कि पूरी दुनिया इस्लाम कबूल कर ले। और इस्लाम ही सबसे बड़ा धर्म है। ऐसी छवि मुस्लिमों की है। हालांकि, यह सच नहीं है।’

यहां देखें वह वीडियो जिसके आधार पर ओम पुरी को पाकिस्तान परस्त बताया गया था

यहां देखें ओमपुरी का इस्लाम पर दिए गए बयान का पूरा वीडियो, जिसे जवाब के तौर पर सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा है

इससे पहले ओम पुरी ने शहीद नितिन यादव पर दिए गए अपने बयान के बाद उनके परिजनों से मांफी मांग ली थी।ओम पुरी उरी हमले में शहीद हुए जवान नितिन यादव के परिवारवालों से मिलने के बाद रो पड़े। पत्रकारों को संबोधित करते हुए पुरी ने कहा, “मैंने जिस जवान का अपमान किया, एक वाक्य बोल कर बहसबाजी में वो दिल से नहीं निकला था, मुंह से जरूर निकला। मैं यहां पश्चाताप करने नहीं आया। मैं उस दिन से ही बहुत विचलित हूं। मुझे बहुत तकलीफ होती रही है। मुझे न सरकार ने कोई सजा दी, न सेना ने कोई सजा दी लेकिन मुझे अंदर से बहुत तकलीफ हो रही है।” इस वीडियो में सुनिए ओम पुरी का पूरा बयान।

Read Also: शहीद के घर पश्चाताप करने पहुंचे ओम पुरी; कहा- “किसी और देश में होता तो मेरे हाथ और सिर कटवा दिए गए होते”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग