ताज़ा खबर
 

गुजरात: हिरासत में लिए गए पटेल आरक्षण आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल, बाद में रिहा

सोलंकी ने कहा, ‘‘हमने उमिय परिसर के बाहर धरना देने के कारण हार्दिक को आठ से नौ अन्य लोगों के साथ हिरासत में लिया। उन्हें बाद में छोड़ दिया जाएगा।’’
Author August 3, 2017 22:01 pm
पाटीदार आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल। (पीटीआई फाइल फोटो)

पटेल आरक्षण आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल के साथ ही पाटीदार अनामत आंदोलन समिति (पास) के कुछ सदस्यों को यहां उमिय धाम परिसर के बाहर धरना देने के कारण पुलिस ने हिरासत में ले लिया। उमिय धाम कैंपस का संचालन पटेल समुदाय के सदस्य करते हैं। सोला के पुलिस निरीक्षक सी एल सोलंकी ने कहा कि हार्दिक पटेल के साथ उनके करीबी सहयोगियों वरूण पटेल और दिनेश बमभानिया तथा पास के कुछ अन्य सदस्यों को पुलिस एस जी राजमार्ग पर उमिय धाम परिसर के बाहर से वाहन से ले गयी।

सोलंकी ने कहा, ‘‘हमने उमिय परिसर के बाहर धरना देने के कारण हार्दिक को आठ से नौ अन्य लोगों के साथ हिरासत में लिया। उन्हें बाद में छोड़ दिया जाएगा।’’ उनकी हिरासत के पहले वरूण पटेल ने कहा कि पांच अगस्त को यहां आयोजित किये जाने वाले एक कार्यक्रम को लेकर विवरण देने के लिए परिसर के भीतर हार्दिक ने संवाददाताओं को बुलाया था।

वरूण ने कहा, ‘‘हालांकि जब हम वहां पहुंचे, सोला पुलिस ने इस आधार पर हमें भीतर नहीं जाने दिया कि न्यासी नहीं चाहते कि परिसर के भीतर संवाददाता सम्मेलन हो। हालांकि न्यास ने इस संबंध में हमें कुछ सूचित नहीं किया था। इसलिए हमलोगों ने बाहर धरना दिया।’’ हार्दिक के मुताबिक न्यासियों ने पांच अगस्त के कार्यक्रम के लिए अनुमति दे दी है।

पास ने कार्यक्रम के दौरान समुदाय के प्रतिभावान छात्रों को सम्मानित करने की योजना बनायी है। अपनी हिरासत से पहले उन्होंने कहा, ‘‘भाजपा सरकार के इशारे पर पुलिस ने हमें रोका क्योंकि ट्रस्ट ने कार्यक्रम आयोजित करने के लिए हाल में हमें अनुमति दी थी । यह मानना बहुत कठिन है कि ट्रस्ट संवाददाता सम्मेलन के खिलाफ है । पुलिस ने हमें प्रबंधन से बात करने से भी रोका।’’

देखिए वीडियो - नरेंद्र मोदी के गुजरात में हो रहा है जीएसटी का कड़ा विरोध

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग