December 04, 2016

ताज़ा खबर

 

गुजरात गौ सेवा बोर्ड की एडवाइजरी में संदेश- ड्रेकुला से बचना है तो अपने ऊपर गौमूत्र छिड़को

गुजरात सरकार द्वारा बनाए गए गौसेवा और गौचर विकास बोर्ड द्वारा गाय के फायदे बताते हुए कहा गया है कि गौमूत्र 'शैतान और ड्रेकुला' से बचाने के लिए काम आता है।

प्रतिकात्मक तस्वीर।

गुजरात सरकार द्वारा बनाए गए गौसेवा और गौचर विकास बोर्ड द्वारा गाय के फायदे बताते हुए कहा गया है कि गौमूत्र ‘शैतान और ड्रेकुला’ से बचाने के लिए काम आता है। यह बात गौचर विकास बोर्ड ने ‘अरोग्य गीता’ नाम की एक एडवाइजरी में कही है। एडवाइजरी में गाय के दूध, गोबर और मूत्र की विशेषताएं बताई गई हैं। एडवाइजरी में कहा गया है कि सिर्फ गौमूत्र ही भूतों से बचा सकता है। एडवाइजरी में कहा गया है, ‘जब मानव के शरीर में भूत घुस जाता है तो कई तरह की बीमारियां हो जाती हैं। शास्त्रों में ऐसी बिमारियों को ‘भूतमिस्तांग’ कहा गया है।’ गाय का मूत्र इसमें कैसे काम आता है इसका जिक्र करते हुए लिखा है, ‘भगवान शंकर भूतों के भगवान हैं। गंगा उनके सिर में वास करती हैं। नंदी उनकी सवारी है। गाय के मूत्र में गंगा होती है। भूत गाय के मूत्र से इसलिए भाग जाते हैं क्योंकि नंदी गौमाता का लड़का है।’

आगे लिखा गया है, ‘मॉर्डन साइंस भूतों पर विश्वास नहीं करती। लेकिन बहुत ही सभ्यताएं मानती हैं कि भूत, वेंपायर, बुरी ताकतें और चुडैल होती हैं। ईसाई लोग भी ड्रेकुला में यकीन करते हैं। उसपर कई फिल्में भी बनी हैं। इस्लाम में भी शैतान का जिक्र किया गया है।’

वीडियो: मोहन भागवत ने गौ रक्षकों का समर्थन किया, कहा- ‘गौ रक्षा संविधान का अभिन्न हिस्सा है’

खबर के मुताबिक, बोर्ड के चेयरमैन डॉ वल्लभ कठारिया ने कहा कि भूत और ड्रेकुला के बारे में जो चैप्टर दिया गया है वह किसी लेखक ने अपने विचार प्रस्तुत करते हुए लिखा था। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि भूत और सुपर नेचुरल पॉवर होती हैं या फिर नहीं इसकी सच्चाई जानने के लिए रिसर्च होनी चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 21, 2016 2:37 pm

सबरंग