ताज़ा खबर
 

गुजरात में बारिश-बाढ़ ने ले ली 70 लोगों की जान

गुजरात में भारी बारिश और बाढ़ से मरने वालों की संख्या बढ़ कर 70 हो गई है। बारिश से अमरेली जिले में 26 लोगों की मौत हुई है। उधर, कश्मीर में भी बाढ़ का खतरा पैदा हो गया है। झेलम खतरे के निशान से ऊपर बह रही है।
Author June 26, 2015 10:25 am
गुजरात में भारी बारिश और बाढ़ से मरने वालों की संख्या बढ़ कर 70 हो गई है। (फोटो: भाषा)

गुजरात में भारी बारिश और बाढ़ से मरने वालों की संख्या बढ़ कर 70 हो गई है। बारिश से अमरेली जिले में 26 लोगों की मौत हुई है। उधर, कश्मीर में भी बाढ़ का खतरा पैदा हो गया है। झेलम खतरे के निशान से ऊपर बह रही है।

गुजरात के स्वास्थ्य मंत्री और प्रवक्ता नितिन पटेल ने बताया कि मूसलाधार बारिश के कारण लगभग 70 लोगों की मौत हुई है। गुजरात राज्य आपात नियंत्रण कक्ष के अनुसार बारिश से सबसे ज्यादा 26 लोगों की मौत अमरेली जिले में हुई है, जबकि भड़ौच, जामनगर, कच्छ व राजकोट जिलों में पांच-पांच लोगों की जान गई है। द्वारका में चार लोगों की मौत हुई है, जबकि भावनगर, जूनागढ़ और सुरेंद्रनगर में तीन-तीन लोग मारे गए हैं। आंकड़ों के अनुसार दाहोद, मेहसाणा, मोरबी और सूरत में दो-दो लोगों की मौत हुई है, जबकि खेडा, पोरबंदर और वलसाड में एक-एक व्यक्ति की जान गई है।

गुजरात सरकार ने इस प्राकृतिक आपदा में मारे गए लोगों के आश्रितों को चार-चार लाख रुपए मुआवजा देने का एलान किया है। स्वास्थ्य मंत्री पटेल ने कहा-‘हमने सभी मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख रुपए मुआवजा देने का फैसला किया है। इसके अलावा हमने यह भी फैसला लिया है कि प्रभावित इलाकों में लोगों को आगामी 10 दिनों तक नकद राशि भी दी जाएगी।’
अमरेली के कलक्टर एचआर सुथर के मुताबिक एनडीआरएफ और वायु सेना की टीमें बचाव व राहत कार्य में लगी हैं और यह पूरे जोरों पर चल रहा है।

राज्य मौसम विभाग के निदेशक जयंत सरकार ने संवाददाताओं को बताया कि गहरा दबाव राज्य से गुजर गया है और अब यह कम दबाव में तब्दील हो गया है और मध्य प्रदेश की ओर केंद्रित है। अगले 24 घंटों में आगे यह कमजोर होगा।

दूसरी ओर श्रीनगर में भारी बारिश के बाद कश्मीर में झेलम सहित कई नदियों और नालों में पानी बढ़ने से घाटी के कई हिस्से जलमग्न हो गए। सरकार ने कश्मीर में बाढ़ की चेतावनी जारी की है। अधिकारियों ने गुरुवार को बताया कि दक्षिण कश्मीर में कई पुल और सड़कें बह गई हैं। पुलवामा जिले के तराल इलाके में भारी बारिश के कारण बाढ़ की समस्या उत्पन्न हो गई है। कुलगाम जिले के चामगुंड इलाके में कुछ घुमंतुओं के बाढ़ में फंसने की भी खबरें मिली हैं।

भारी बारिश के कारण झेलम में जलस्तर खतरे के निशान से ऊपर चले जाने के कारण अनंतनाग और पुलवामा जिले में बाढ़ की चेतावनी जारी की गई है। अधिकारियों ने बताया कि गुरुवार दोपहर झेलम खतरे के निशान से 4.14 फुट ऊपर बह रही थी।
मौसम विभाग ने अगले 48 घंटों में भारी बारिश की आशंका जताई है।

इसे लेकर घाटी में भारी चिंता है। अधिकारियों ने बताया कि झेलम और उसकी सहायक नदियों में जल की मात्रा बढ़ने के कारण नई बस्ती, तकिया बेहमरपुरा, शमसीपुरा और हसनपुरा सहित अनंतनाग जिले के विभिन्न इलाकों में बाढ़ आ गई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग