ताज़ा खबर
 

नए नोट में GPS चिप, रेडियोएक्टिव इंक से लेकर नमक की कमी तक, 2016 में छाई रहीं देश में ये 10 फेक न्यूज

2016 में वॉट्सएप ग्रुप और अन्य सोशल मीडिया साइट्स पर खबर आई की। यूनिस्को (यूएन की कल्चरल एजेंसी) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दुनिया के सबसे बेस्ट प्रधानमंत्री के अवॉर्ड से नवाजा है।
Author नई दिल्ली | December 26, 2016 16:49 pm
इन स्कीम्स में मिलता है बैंक FD से ज्यादा पैसा (Photo Source: AP)/Representative Image)

साल 2016 जाने को है। साल के शुरुआत से लेकर अंत तक कई ऐसी खबरें देश भर में छाई रही जो झूठी (fake) न्यूज साबित हुई। यह अफवाह सोशल मीडिया और मैसेजिंग एप वॉट्सएप के जरिए शुरू हुई और टीवी चैनलों और अखबारों की सुर्खियां बनी। बाद में इन खबरों का खंडन किया गया। इनमें नोट में रेडियोएक्टिव इंक, नोट में नैनो जीपीएस चीप समेत कई अफवाहें शामिल है। इस तरह की खबरें बड़े पैमाने पर भारत में फैली। भारत कुछ सोशल मीडिया कंपनियों और कम्युनिकेशन कंपनीज के लिए बड़ा मार्केट है। जिसमें फेसबुक के 148 मिलियन यूजर्स, ट्विटर के 22 मिलियन से ज्यादा यूजर्स और वॉट्सएप पर करीब 1 बिलियन से ज्यादा एक्टिव यूजर्स हैं। जानिए भारत में उड़ने वाली कुछ ऐसी ही पापुलर फेक न्यूज के बारे में।

1)- यूनेस्को ने पीएम मोदी को बेस्ट प्रधानमंत्री घोषित किया
जून 2016 में वॉट्सएप ग्रुप और अन्य सोशल मीडिया साइट्स पर खबर आई की। यूनिस्को (यूएन की कल्चरल एजेंसी) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दुनिया के सबसे बेस्ट प्रधानमंत्री के अवॉर्ड से नवाजा है। यह अफवाह व्हॉट्सऐप पर शुरू हुई और धीरे-धीरे सोशल मीडिया वेबसाइट फेसबुक और ट्विटर पर तेजी से फैल गई। यूजर्स प्रधानमंत्री मोदी को बधाई देने लगे। बाद में मीडिया संस्थानों ने बताया कि यह खबर झूठी है।

2)- यूनेस्को ने जन गण मन को घोषित किया बेस्ट राष्ट्रगान 

पीएम नरेंद्र मोदी को बेस्ट प्रधानमंत्री घोषित किए जाने से पहले एक और फेक न्यूज सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय रहा। कहा गया कि जन गण मन को यूनेस्को ने बेस्ट नेशनल एंथम घोषित किया। यह अफवाह 2008 में ई-मेल के जरिए उड़ाई गई, बाद में यूनेस्को कि नजर इस पर पड़ी। यूनेस्को ने इस तरह की खबरों पर विराम लगाते हुए कहा कि उसने भारत या किसी देश को लेकर ऐसी कोई घोषणा नहीं की है।

3)- यूनेस्को ने 2000 रुपए को घोषित किया बेस्ट करेंसी

यूनेस्को को लेकर एक और अफवाह 2000 रुपए के नए नोट को लेकर उड़ी। नोटबंदी के दौरान व्हाट्सऐप पर मैसेज वायरल हुए कि 2000 रुपए के नए नोटों को यूनेस्को द्वारा सर्वश्रेष्ठ करेंसी घोषित की गई।