ताज़ा खबर
 

केजरीवाल ने नाराज अन्ना, कहा- अच्छा किया जो अरविंद का साथ छोड़ दिया

सामाजिक कार्यकर्ता अण्णा हजारे ने पटना में शुक्रवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के शपथ ग्रहण समारोह के इतर मंच पर उनके पूर्व सहयोगी अरविंद केजरीवाल और लालू प्रसाद यादव के गर्मजोशी से गले मिलने पर निराशा जताई है।
Author मुंबई | November 25, 2015 01:11 am
समाजसेवी अन्ना हजारे (फाइल फोटो)

सामाजिक कार्यकर्ता अण्णा हजारे ने पटना में शुक्रवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के शपथ ग्रहण समारोह के इतर मंच पर उनके पूर्व सहयोगी अरविंद केजरीवाल और लालू प्रसाद यादव के गर्मजोशी से गले मिलने पर निराशा जताई है। हजारे ने मंगलवार को कहा- अच्छा है कि मैंने अरविंद का साथ छोड़ दिया वरना मुझे भी इसी तरह के हालात का सामना करना पड़ता।

उन्होंने अहमदनगर जिले में अपने मूल गांव रालेगणसिद्धि में संवाददाताओं से कहा कि लालू के साथ हाथ मिलाना और उनसे गले मिलना सही नहीं है। हजारे ने यह बयान ऐसे समय पर दिया है जब केजरीवाल ने लालू से गले मिलने की घटना पर सफाई देने की कोशिश की है। यह घटना देश में चर्चा का बड़ा विषय बन गई है।

केजरीवाल ने सोमवार को दावा किया था कि लालू यादव ने मुझसे हाथ मिलाया और खींचकर गले लगा लिया। इसके बाद उन्होंने मेरा हाथ पकड़ा और उठा दिया। इसे पेश किया गया और सवाल पूछे गए। दोनों नेताओं के गले मिलने वाली तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो गई और दो साल पहले किए गए केजरीवाल के ट्वीट का जिक्र करते हुए आप नेता को उस समय लालू यादव के संबंध में उनके रुख के बारे में याद दिलाया गया, जब यादव भ्रष्टाचार मामले में दोषी ठहराए गए थे।

लालू और केजरीवाल के गले मिलने की घटना के कारण आप नेता की केवल सोशल मीडिया पर ही आलोचना नहीं हो रही है बल्कि उनके राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी भी उन पर निशाना साध रहे हैं। आप में उनके पूर्व सहयोगी योगेंद्र यादव ने कहा कि आंदोलन की राजनीतिक पूंजी राजनीतिक भ्रष्टाचार के प्रतीकों को बेच दी गई। शर्म की बात है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. अनिल दुबे
    Nov 25, 2015 at 4:33 am
    अरविन्द का ढोंग ही कहना होगा कि जब लालू से इतना परहेज था तो शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने जनाही नहीं चाहिए था।
    (0)(0)
    Reply