December 08, 2016

ताज़ा खबर

 

500 और 1000 के नोट बंद होने के बाद अगली सुबह गांववालों को मिले 100 बड़े-बड़े सीलबंद कार्टून, घर ले जाने को लगी होड़

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार रात 12 बजे से 500 और 1000 रुपए के नोट बंद करने की घोषणा की थी।

तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

गाजियाबाद के महाराजपुर क्षेत्र में लोगों को श्मशान घाट के पास सैंकड़ों कार्टून पड़े दिखे। इसके बाद क्षेत्र में अफवाह फैल गई कि इन डिब्बों में किसी नेता ने 500 और 1000 रुपए के नोट भरकर फेंक दिए हैं। ये सारे डिब्बे सीलबंद थे। जैसे-जैसे वहां नजदीक में रहने वाले लोगों के पास यह खबर पहुंची, लोग इकट्ठा होना शुरू हो गए। सब लोग वहां डिब्बे उठाकर अपने घर ले जाने लगे। ऐसे में वहां अफरातफरी वाला माहौल बन गया। वहां के लोग जितने कार्टून उठा सकते थे, उतने अपने घर ले जा रहे थे। इसके बाद पुलिस ने वहां पहुंचकर लोगों को शांत किया और उन डिब्बों को खुलवाया तो उनमें खराब कपड़े भरे हुए थे। पुलिस का कहना है कि ये कार्टून किसी फैक्ट्री ने यहां डाले होंगे या फिर किसी ने चोरी करके रात में यहां गिरा दिया। बता दें, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार रात 12 बजे से 500 और 1000 रुपए के नोट बंद करने की घोषणा की थी। पीएम मोदी ने कहा था कि सरकार ने यह फैसला कालेधन का खत्म करने और भ्रष्टाचार को रोकने के लिए उठाया है। हालांकि, पुराने नोटों को बैंकों से 30 दिसंबर तक बदल सकते हैं।

वीडियो में देखें- 500 और 1000 के नोट बंद, क्या होगा इसका असर?

प्रधानमंत्री द्वारा राष्ट्र के नाम सम्बोधन में 500 और 1000 रुपए के नोटों की वैधता आठ नवम्बर की रात 12 बजे के बाद समाप्त किये जाने की घोषणा से लोग सकते में आ गये। अचानक उठाये गये इस स्तब्धकारी कदम से खासकर सफर पर निकलने वाले और रोजगार के सिलसिले में रोज सफर करने वालों, रोज अपने भरण-पोषण का सामान खरीदने वालों समेत आम जनता को भारी दिक्कतें उठानी पड़ रही हैं। खासकर पेट्रोल पम्प पर 500 और 1000 के नोट लेने को लेकर बहस-मुबाहिसा और कहीं-कहीं तो मारपीट की नौबत भी आ रही है। पेट्रोल पम्पों पर पुलिस बल तैनात किया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 9, 2016 3:08 pm

सबरंग