ताज़ा खबर
 

अमेरिकी दूतावास ने भी की पत्रकार गौरी लंकेश की हत्‍या की निंदा, दिया ये बयान

लंकेश लोकप्रिय कन्नड़ टेबलॉयड 'लंकेश पत्रिके' की संपादक थीं।
Author September 6, 2017 16:44 pm
वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश। Photo Source-Twitter

अमेरिकी दूतावास ने बुधवार को वरिष्ठ कन्नड़ पत्रकार-सामाजिक कार्यकर्ता गौरी लंकेश की हत्या की निंदा की। दूतावास ने एक बयान में कहा, “भारत में अमेरिकी मिशन भारत व दुनिया भर में प्रेस की आजादी के समर्थकों के साथ मिलकर बेंगलुरु में सम्मानित पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या की निदा करता है।” इसमें कहा गया है, “हम सुश्री लंकेश के परिवार, मित्रों व सहयोगियों के साथ संवेदना प्रकट करते हैं।” लंकेश (55) की तीन अज्ञात हमलावरों ने उस समय गोली मारकर हत्या कर दी, जब वह अपने कार्यालय से घर लौटी थीं। लंकेश लोकप्रिय कन्नड़ टेबलॉयड ‘लंकेश पत्रिके’ की संपादक थीं। लंकेश की हत्या के विरोध में बुधवार को पूरे कर्नाटक में प्रदर्शन हुए। विरोध प्रदर्शन कर रही भीड़ में पत्रकार, कार्यकर्ता, लेखक, चिंतक और महिला संगठनों के कार्यकर्ता शामिल हैं। लोग यहां मौन विरोध प्रदर्शन करने के लिए टाउन हॉल में एकत्रित हुए और उन्होंने तख्तियां पकड़ रखी थी। एक तख्ती पर लिखा था, “आप किसी शख्स की हत्या कर सकते हैं, उसके विचारों की नहीं।” विक्टोरिया अस्पताल परिसर में भी पत्रकारों ने मौन विरोध प्रदर्शन किया, जहां उनका (गौरी लंकेश) पोस्टमॉटर्म हुआ है। राज्य भर में मंगलुरू, कलबुरगी, धारवाड़, कोप्पल आदि क्षेत्रों में नागरिकों ने सड़कों पर उतरकर विरोध प्रदर्शन किया।

हत्या के विरोध में मैसूर में पत्रकारों ने अपने कंधों पर काले फीते बांधे और उपायुक्त कार्यालय के सामने प्रदर्शन किया। नई दिल्ली, मुंबई, हैदराबाद और देश के अन्य शहरों में भी बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन करने की योजना बनाई गई। इस बीच, मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने भी बुधवार को अपने सभी आधिकारिक कार्यक्रम रद्द कर दिए। मुख्यमंत्री कार्यालय के एक अधिकारी ने कहा, “मुख्यमंत्री ने मंगलवार रात घटी घटनाओं के मद्देनजर केरल की एक दिन की यात्रा सहित अपने सभी कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं।”

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने इस हत्या पर हैरानी और चिंता जताते हुए बुधवार को कहा, “इसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता और इसे बर्दाश्त नहीं किया जाना चाहिए।” कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने भाजपा पर असहमति जताने पर चुप कराने का आरोप लगाते हुए कहा कि यह उनकी (भाजपा) विचारधारा का हिस्सा है। उन्होंने कहा, “जो भी भाजपा के खिलाफ बोलता है, उसे चुप करा दिया जाता है..।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.