ताज़ा खबर
 

बीच बहस में टीवी एंकर से ही भिड़ गए भारतीय गौरक्षा दल के नेता, कहा… मोदी जी कौन हैं… 80 प्रतिशत संसद में बैठे हुए हैं करप्ट और रेपिस्ट

भारतीय गौरक्षा दल के चेयरमैन ने कहा अब बीजेपी सेकुलरिज्म का चोला पहनना चाहती है।
Author नई दिल्ली | August 9, 2016 14:16 pm
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (फाइल फोटो)

भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गौरक्षकों पर दिए गए बयान पर विवाद थमता नजर नहीं आ रहा है। खुद को पीएम मोदी का समर्थक बताने वाले कई लोग और संगठन उनके बयान से नाराज हैं। इन लोगों में एक हैं हरियाणा के भारतीय गौरक्षा दल के चेयरमैन पवन पंडित जिन्होंने सोमवार को एक राष्ट्रीय चैनल पर लाइव टीवी डिबेट में पूछ लिया है, “…कौन हैं पीएम मोदी?” पवन पंडित पीएम मोदी के उस बयान से बेहद नाराज नजर आ रहे थे जिसमें उन्होंने कहा था कि 80 प्रतिशत गौरक्षक रात में एंटी-सोशल गतिविधियों में लिप्त रहते हैं।

मोदी ने राज्य सरकारों से गौरक्षा के नाम पर हिंसा करने वालों का डोजियर निकाल कार्रवाई करने के लिए भी कहा था। मोदी के इन बयानों पर लाल-पीले हो रहे पंडित ने बहस में शामिल बीजेपी नेता सुधांशु त्रिवेदी को चुनौती देते हुए कहा, “मैं कहता हूं 80 प्रतिशत संसद में बैठे हुए करप्ट हैं रेपिस्ट हैं, निकालिए डोजियर….70 प्रतिशत मुस्लिम बीफ खाते हैं निकालिए डोजियर…?” निडी न्यूज चैनल एबीपी न्यूज़ पर “मोदी के गुस्से से मिटेगा दलित-गौरक्षक विवाद” विषय पर हुई बहस में गौरक्षा दल के चेयरमैन पवन पंडित के अलावा बीजेपी नेता सुधांशु त्रिवेदी, कांग्रेसी नेता पीएल पुनिया और विश्व हिन्दू परिषद के श्रीराज नायक शामिल थे।

पंडित बीजेपी नेता सुधांशु त्रिवेदी से बार-बार पीएम मोदी के बयानों की सफाई मांग रहे थे। पंडित ने बहस में आरोप लगाया कि “अब बीजेपी हिन्दुत्व की राजनीति नहीं करना चाहती, वो ओबामा की राजनीतिक करना चाहती है… भारतीय जनता पार्टी सेकुलरिज्म का चोला पहनना चाहती है…” पंडित विशेषकर पीएम मोदी की भाषा को लेकर आहत थे। उन्होंने बहस में कहा कि मुझे गोली मार दो….ऐसे गौरक्षकों का डोजियर निकालो…कैसी भाषा है ये…ये एक देश के प्रधानमंत्री की भाषा है।

Read Also:गौरक्षा पर मोदी के बयान से भड़की VHP, कहा- 2019 में नहीं पा सकेंगे हिंदुओं के वोट, हिंदू महासभा ने पीएम को बताया आस्‍तीन का सांप

बीच बहस में पंडित कार्यक्रम की एंकर नेहा पंत से उलझ पड़े। पंडित स्टूडियो में एंकर की तरफ मुड़कर बहस करने लगे तो पंत को उन्हें कहना पड़ा, “आप पहले तो कैमरे पर देखिए सर…”

शनिवार को नई दिल्ली में टाउनहाल कार्यक्रम में पीएम मोदी ने कहा था कि गौसवकों के नाम पर कुछ लोगों ने अपनी दुकानें खोल ली हैं और कुछ लोग रात में गैर-कानूनी काम करते हैं और दिन में गौसेवक बन जाते हैं। उसके बाद रविवार को तेलंगाना में एक रैली में पीएम मोदी ने कहा कि ये फर्जी गौरक्षक जो हैं, इनकी पहचान की जानी चाहिए और फिर सजा दी जानी चाहिए।

देखें बहस का वीडियो-

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. D
    Drrkd Goel
    Jan 5, 2017 at 2:36 pm
    Copt for : - ---------------------------------------------------------------------------------------------Drrkd Goel 20 hrs • FW: Your comment is live on timesofIndia.=''India first' is my
    (0)(0)
    Reply
    1. M
      Mangusingh Rajpurohit
      Aug 13, 2016 at 7:46 am
      मोदी जी ने जो कहा वह बिलकुल ी कहा 80 % नकली गौ भक्त हे ।अब जो नकली गौ भक्त हे उन्हें मिर्ची लग रही हे ।अरे मूर्खो मोदी जी रात दिन देश के लिये काम कर रहे हे आप लोग गरीबो के साथ गुंडागर्दी ।अपने घर पर एक गाय नही रख सकते बात करते हे गौ माता की शर्म करो ।।
      (0)(0)
      Reply
      1. शोम रतूड़ी
        Aug 9, 2016 at 4:50 pm
        एक बात तो तय है जो आदमी 18-20 घंटे काम करता हो वह केवल प्रधानमन्त्री बनने नही आया बल्कि देश की किस्मत बदलने आया है भले ही उस पर कोई भी झूठे आपेक्ष क्यूँ न लगे,मोदी को पिछले चुनावों में भले ही बहुसंख्यक हिन्दुओं ने वोट दिए हों लेकिन विकास के लिए मुस्लिम समुदाय ने भी वोट दिया चाहे वे कम लोग हों लेकिन इसमें वे भी लोग हैं जिन्होंने कभी बीजेपी को वोट नही दिया.मोदी के सामने इस बहुलतावादी देश में कई चुनौतियाँ हैं जिन्हें उन्हें इन बाकि बचे ढाई वर्षों में पूरा करना है.
        (1)(0)
        Reply
        सबरंग