ताज़ा खबर
 

G20 Summit 2017: ब्रिक्स मीट में चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मिले पीएम नरेंद्र मोदी, सहयोग का किया वादा

G20 Summit 2017: जी-20 शिखर सम्मेलन के अलावा पीएम मोदी ब्रिक्स देशों (ब्राजील, रूस, भारत, चीन एवं दक्षिण अफ्रीका) के नेताओं से भी आज (शुक्रवार को) मुलाकात करेंगे।
जी-20 समिट में जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल से मिलते पीएम मोदी। (एपी फोटो)

जी-20 का 12वां शिखर सम्मेलन जर्मनी के हैम्बर्ग में हो रहा है। शुक्रवार को पीएम नरेंद्र मोदी और शी जिनपिंग के बीच मुलाकात भी हुई। दोनों ने बड़ी गर्मजोशी से एक दूसरे से हाथ भी मिलाया। दोनों की मुलाकात की फोटोज भी सामने आई हैं। गुरुवार को चीनी सरकार की ओर से कहा गया था कि अभी दोनों देशों के नेताओं की मुलाकात के लिहाज से समय सही नहीं है। इसके बाद कयास लगाए जा रहे थे मोदी और जिनपिंग जर्मनी में नहीं मिलेंगे। सिक्किम में डोकलाम पठार को लेकर दोनों देशों में इन दिनों तनातनी चल रही है। बताया जा रहा है कि 1962 के युद्ध के बाद दोनों देशों के बीच संबंध कभी इतना तनावपूर्ण नहीं रहा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जी-20 शिखर सम्मेलन में आतंकवाद के मुद्दे पर पाकिस्‍तान को घेरा है। पाकिस्तान का नाम लिए बिना प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि दक्षिण एशिया में एक देश आतंकवाद को फैला रहा है। उन्‍होंने कहा, “हिंसा और आतंकवाद की बढ़ती ताकत ने चुनौती खड़ी कर दी है। कुछ देश हैं जो इसे राष्‍ट्रीय नीति के रूप में इस्‍तेमाल कर रहे हैं। वास्‍तव में, दक्षिण एशिया में एक ही देश है जो हमारे क्षेत्र के देशों में आतंक फैला रहा है। आतंकी, आतंकी होता है। आतंकवाद के समर्थन करने वालों को अलग किया जाए और उन पर प्रतिबंध लगाए जाए। मैं अंतरराष्‍ट्रीय समुदाय से अपील करता हूं कि एक होकर आतंकवाद के खिलाफ कार्रवाई की जाए। आतंकवाद के खिलाफ भारत की जीरो टॉलरेंस की नीति है, क्‍योंकि इससे कम हमें कुछ भी पर्याप्‍त नहीं है।”

12वें जी-20 शिखर सम्मेलन के दौरान आतंकवाद से मुकाबला और आर्थिक सुधार जैसे मुद्दों के छाए रहने की संभावना है साथ ही मुक्त और खुला व्यापार, जलवायु परिवर्तन, आव्रजन, सतत विकास और वैश्विक स्थायित्व जैसे विषयों पर भी चर्चा की संभावना है। शनिवार को शिखर सम्मेलन का समापन सत्र होगा। इसके बाद जी-20 नेताओं की ओर से संयुक्त बयान जारी किया जाएगा।

G20 Summit 2017 Updates in Hindi:

 

03.41 PM: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ब्रिक्स समिट में मिले। भारत ने चीन को हरसंभव मदद का भरोसा दिया। चीनी राष्ट्रपति ने भी भारत के विकास की उम्मीद जताई। पीएम ने ब्रिक्स देशों को बताया कि भारत ने जीएसटी लागू कर कर-सुधार की दिशा में नया और महत्वपूर्ण कदम उठाया है।

2.05 PM: जी-20 शिखर सम्मेलन की मेजबान और जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग का गर्मजोशी के साथ स्वागत किया।

1.29 PM: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा कि वह रूसी राष्ट्रपति पुतिन के साथ-साथ जी-20 के विश्व नेताओं से  से मुलाकात के लिए उत्सुक हैं। वह कहते हैं कि उनसे “बहुत कुछ चर्चा करना” है।

1.05 PM: जी-20 शिखर सम्मेलन से पहले विश्व व्यापार संगठन, अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष और विश्व बैंक ने जी-20 देशों के नेताओं से श्रमिकों के समर्थन में व्यापार को बढ़ावा देने के लिए कहा है। एक संयुक्त बयान में तीनों संस्थानों ने कहा, “अरबों लोगों का आर्थिक कल्याण व्यापार पर निर्भर करता है। घरेलू नीतियों के साथ जुड़ने वाला गहरा व्यापार एकीकरण, वृद्धि को बढ़ावा देने और वैश्विक विकास में तेजी लाने में मदद कर सकता है। इसलिए  जी -20 शिखर सम्मेलन में जमा होने वाले विश्व नेताओं द्वारा निर्णायक कार्रवाई की जरूरत है। ”

12.32 PM: कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रुडु ने एक अखबार के साथ एक साक्षात्कार में कहा कि जी 20 के नेता अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प से जलवायु परिवर्तन पर अपने संबोधन में रोल मॉडल पेश करने को कहेंगे। उन्होंने कहा कि इसमें कोई संदेह नहीं है कि जलवायु परिवर्तन हो रहा है।

12.04 PM: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप गुरुवार को ही हैम्बर्ग पहुंच चुके हैं। वह जी-20 शिखर सम्मेलन से इतर ब्रिटिश प्रधानमंत्री थेरेसा के साथ वार्ता करेंगे।

11.07 AM: शिखर सम्मेलन की मेजबानी कर रहीं जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल ने कहा कि जलवायु परिवर्तन पर चर्चा करना आज की मजबूरी है।उन्होंने कहा कि विश्व के सभी नेताओं को पेरिस जलवायु समझौते का सम्मान करना चाहिए। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने पिछले दिनों इस समझौते को एकतरफा करार दिया था।

10.30 AM: शिखर सम्मेलन में मौजूद सभी लोगों की नजरें इस बात पर टिकी हैं कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और रूसी राष्ट्रपति ब्लादिमिर पुतिन जब पहली बार मिलेंगे तो उनकी क्या प्रतिक्रिया होगी?

10.05 AM: जी-20 शिखर सम्मेलन से पहले पीएम मोदी ने कहा कि सम्मेलन में शामिल सभी देश पिछले साल हांग्झू समिट में लिए गए फैसलों की समीक्षा करेंगे कि हमने कहां तक उस पर अमल किया और प्रगति पाई।

10.00AM: हैम्बर्ग पहुंचने पर पीएम मोदी के कार्यालय ने आधिकारिक तौर पर ट्वीट किया। पीएम मोदी शिखर सम्मेलन स्थल पर पहुंचकर दूसरे देशों के नेताओं से मुलाकात की।

7 और 8 जुलाई को इस साल का शिखर सम्मेलन आयोजित किया गया है। इस सम्मेलन का विषय ‘शेपिंग एन इंटर-कनेक्टिड वर्ल्ड’ रखा गया है। प्रधानमंत्री तीन दिनों की इजरायल दौरे को खत्म कर गुरुवार को ही जर्मनी पहुंच गए थे।  जी-20 शिखर सम्मेलन के अलावा पीएम मोदी ब्रिक्स देशों (ब्राजील, रूस, भारत, चीन एवं दक्षिण अफ्रीका) के नेताओं से भी आज मुलाकात करेंगे। इस दौरान चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग से पीएम मोदी की मुलाकात हो सकती है लेकिन उनके बीच वन-टू-वन बातचीत नहीं होगी। इससे पहले पीएमओ ने ट्वीट कर बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी-20 शिखर सम्मेलन के लिए हैम्बर्ग पहुंच गए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग