ताज़ा खबर
 

गुजरात दिवस पर नाटक में दिखाया गया हिंदू-मुस्लिम की शादी और अंतरजातीय रिश्तों की अहमियत

गुजरात दिवस पर छोटा उदयपुर में आयोजित कार्यक्रम में हिंदू मुस्लिम एकता को लेकर नाटक का मंचन किया गया। यह नाटक विकसित और आगे बढ़ते गुजरात को लेकर था।
गुजरात दिवस पर हुआ नाटक का मंचन, हिंदू-मुस्लिम शादी के माध्यम से दिया एकता का संदेश।

गुजरात दिवस पर छोटा उदयपुर में आयोजित कार्यक्रम में हिंदू मुस्लिम एकता को लेकर नाटक का मंचन किया गया। यह नाटक विकसित और आगे बढ़ते गुजरात को लेकर था। नाटक की कहानी का आधार दो समुदायों में प्रेम को लिया गया। कार्यक्रम के दौरान गवर्नर ओ.पी. कोहली और गुजरात की मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल भी मौजूद थीं।

Read Also: सिर्फ बेटा या बेटी पैदा करने वाले कपल्स के लिए अस्पताल बनाएगी गुजरात सरकार

नाटक में विभिन्न समुदायों में होने वाले रीति-रिवाजों और अंधविश्वासों को निशाना बनाया गया। इसे यूथ अफेयर्स और कल्चर डिपार्टमेंट के लिए विष्णु पांड्या ने लिखा। नाटक में मुख्य किरदार सारिया और आर्यन थे, जिनके माध्यम से अंतरजातीय विवाह के समर्थन किए जाने का संदेश दिया गया।

Read Also: गुजरात: AAP के बाद अब कांग्रेस ने उठाए मोदी की डिग्री पर सवाल, कहा-डेट ऑफ बर्थ में गड़बड़ी

नाटक के मंचन के अंत में मुख्यमंत्री आनंदीबेन ने कहा, “सामाजित कुरीतियों की बजाए कुछ नया सीखने के प्रयास को दिखाया गया है। हम पुरानी चीजों को छोड़कर आगे बढ़ रहे हैं।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.