ताज़ा खबर
 

लोकसभा में उठा देश के विभिन्न हिस्सों में आई बाढ़ का मुद्दा

विभिन्न राजनीतिक दलों के सदस्यों ने बुधवार को लोकसभा में अपने अपने राज्यों में आयी बाढ़ और उससे उत्पन्न हालात का जिक्र किया और हालात से निपटने के लिए केंद्र सरकार से तत्काल सहायता की अपील की।  शून्यकाल में कांग्रेस के प्रकाश उमेरे ने कर्नाटक के बेलगाम में कृष्णा नदी में बाढ़ का मुद्दा उठाया […]
Author नई दिल्ली | July 27, 2016 16:13 pm
बाढ़ में फंसी महिला को सुरक्षित स्‍थान पर ले जाता सेना का जवान। फोटो- एजेंसी

विभिन्न राजनीतिक दलों के सदस्यों ने बुधवार को लोकसभा में अपने अपने राज्यों में आयी बाढ़ और उससे उत्पन्न हालात का जिक्र किया और हालात से निपटने के लिए केंद्र सरकार से तत्काल सहायता की अपील की।  शून्यकाल में कांग्रेस के प्रकाश उमेरे ने कर्नाटक के बेलगाम में कृष्णा नदी में बाढ़ का मुद्दा उठाया और तत्काल वहां सहायक नदियों पर पुलों का निर्माण किए जाने की मांग की।

भाजपा के गणेश सिंह ने कहा कि देश के आधे हिस्सों में बाढ़ आयी हुई है और मध्य प्रदेश के 23 जिलों में हजारों करोड़ रूपये की संपत्ति बर्बाद हो गयी है और हजारों मकान ध्वस्त हो गए हैं। उन्होंने कहा कि सतना में पिछले दिनों हुई भारी बारिश के चलते हालात इतने बेकाबू हो गए कि सेना को मदद के लिए बुलाना पड़ा।
उन्होंने केंद्र सरकार से प्रभावित इलाकों में राष्ट्रीय आपदा मोचन बल के सुझावों पर कार्रवाई करने तथा कें्रद एक टीम इलाकों का दौरा करने के लिए भेजे जाने की मांग की।

इसी पार्टी की अंजुबाला और रेखा वर्मा ने भी अपने अपने इलाकों में बाढ़ का मुद्दा उठाया और इलाके में गंगा नदी तथा शारदा नदी पर बांध बनाए जाने की मांग की।
कांग्रेस के निनोंग एरिंग ने अरूणाचल प्रदेश के लोहित, नामसा और चांग्ला में भारी बाढ़ का मुद्दा उठाया और कहा कि क्षेत्र में पांच गांव पूरी तरह तबाह हो गए हैं। उन्होंने गृह मंत्री से इस मामले में मदद की मांग की।

सी के संगमा ने मेघालय के तुरा संसदीय क्षेत्र के फुलबाड़ी, सिलकरा के बाढ़ से बुरी तरह प्रभावित होने का मुद्दा उठाया और कहा कि असम और मेघालय में बाढ़ के कारण हालात खराब हैं। उन्होंने कें्रद सरकार से कें्रदीय प्रतिनिधिमंडल भेजकर वहां के हालात की समीक्षा कराए जाने की मांग की। कांग्रेस के गौरव गोगोई ने भी असम में बाढ़ का मुद्दा उठाते हुए सदन में ध्यानाकर्षण प्रस्ताव के तहत देश में बाढ़ के हालात पर चर्चा की मांग की।  राजद से निष्कासित सदस्य राजेश रंजन उर्फ पप्पु यादव ने सुपौल में बाढ़ के कारण उत्पन्न गंभीर स्थिति का जिक्र किया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.