ताज़ा खबर
 

नोटबंदी की आलोचना पर जेटली का पलटवार-इकॉनमी के लिए एेतिहासिक क्षण था, लूट 2G और कोयला आवंटन में हुई थी

8 नवंबर को रात 8 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश भर में 500 और 1000 के नोटों को अमान्य करार कर दिया था।
वित्त मंत्री अरुण जेटली। (Photo : PTI)

नोटबंदी की पहली वर्षगांठ की पूर्व संध्या पर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने मीडिया को संबोधित किया। जेटली ने कहा कि नोटबंदी भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए एक एेतिहासिक क्षण था। जेटली ने कहा कि नोटबंदी एकमात्र हल था और इससे सारी समस्याएं खत्म हो जाएंगी, एेसा नहीं है। लेकिन इससे अजेंडा बदला है। नोटबंदी की उपलब्धियां गिनाते हुए उन्होंने कहा इससे आतंकी गतिविधियों का वित्त पोषण कम हो गया है और फर्जी कंपनियों की पहचान हुई है। उन्होंने कहा कि कालेधन के खिलाफ कार्रवाई नैतिक कदम है। लूट तो वह होती है जो 2जी, कॉमनवेल्थ और कोल ब्लॉक आवंटन के दौरान हुई थी। वित्त मंत्री ने कहा कि पूर्व पीएम मनमोहन सिंह को 2014 से पहले और उसके बाद भारतीय अर्थव्यवस्था की वैश्विक क्रेडिबिलिटी की तुलना करनी चाहिए। कांग्रेस का मुख्य अजेंडा एक परिवार की सेवा करना है, जबकि हमारा राष्ट्र की सेवा करना। इससे पहले पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने गुजरात में नोटबंदी, जीएसटी और बुलेट ट्रेन को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा । सिंह ने कहा कि जीएसटी और नोटबंदी दोनों ही हमारी अर्थव्यवस्था के लिए बहुत खतरनाक कदम हैं।

उन्होंने कहा कि इनकी वजह से हमारे छोटे निवेशकों की कमर टूट गई है। अहमदाबाद में व्यापारियों को संबोधित करते हुए सिंह ने कहा, ‘कल हम उस विनाशकारी पॉलिसी की पहली वर्षगांठ मनाएंगे, जो हमारे देश के लोगों पर थोप दी गई थी।’ पूर्व पीएम ने भारतीय अर्थव्यवस्था और लोकतंत्र के लिए 8 नवंबर को ‘काला दिवस’ करार दिया है। उन्होंने कहा, ‘मैंने जो संसद में कहा था, उसे मैं दोहराना चाहता हूं। यह एक सुनियोजित लूट और कानून डकैती थी।’ सिंह ने नोटबंदी को बिना सोचे-समझे जल्दबाजी में उठाया गया कदम बताया और कहा कि इसके किसी भी लक्ष्य की प्राप्ति नहीं हुई। साथ ही उन्होंने कहा कि जीएसटी के तहत अनुपालन की शर्तें छोटे व्यवसायों के लिए दु:स्वप्न बन गई हैं।

सिंह ने यह भी कहा कि नोटबंदी की वजह से भारतीयों ने चीन से ज्यादा आयात किया है। उन्होंने बताया कि 2016-17 की पहली तिमाही में भारत ने 1.96 लाख करोड़ रुपए का आयात किया था, जो कि 2017-18 में 2.41 लाख करोड़ रुपए हो गया। उन्होंने आयात में अभूतपूर्व वृद्धि के पीछे की वजह जीएसटी और नोटबंदी को बताया, जो कि एक साल में 23 फीसदी बढ़ा है। इसके साथ ही मनमोहन सिंह ने नरेंद्र मोदी सरकार के बुलैट ट्रेन प्रोजेक्ट की भी आलोचना की। उन्होंने कहा, ‘बड़ी धूमधाम से शुरु की गई बुलेट ट्रेन परियोजना अहंकार की कवायद है। क्या प्रधानमंत्री नें ब्रॉड गेज रेलवे को अपग्रेड करके हाईस्पीड ट्रेन के विकल्पों के बारे में सोचा है?

देखें वीडियो ः

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. M
    manish agrawal
    Nov 7, 2017 at 6:48 pm
    हिन्दोस्तान के वजीरेआजम रह चुके डॉ मनमोहन सिंह ने किसी देसी विद्यापीठ में नहीं बल्कि कैंब्रिज और ऑक्सफ़ोर्ड यूनिवर्सिटीज से Economics की तालीम हासिल की है और बतौर अर्थशास्त्री , हार्वर्ड यूनिवर्सिटी और पश्चिमी मुल्कों में उनकी बहुत इज़्ज़त है ! Economics के Matters में डॉ मनमोहन सिंह कभी पॉलिटिक्स नहीं करते और हमेशा देशहित की बात करते हैं ! यदि डॉ मनमोहनसिंह कह रहे हैं की नोटबंदी एक लूट थी तो, उनपर शक करने का कोई सवाल नहीं ! डॉ मनमोहन सिंह के कार्यकाल के दौरान भीषण मंदी आयी थी और अमेरिका भी adversely affect हुआ था लेकिन डॉ मनमोहन सिंह के कुशल नेतृत्व के चलते , हिन्दोस्तान पर कोई दुष्प्रभाव नहीं हुआ ! सोशल मीडिया पर उनके खिलाफ , बेहूदे कमेंट्स लिखकर लोग, अपने जाहिलपन का मुज़ाहिरा करते रहते हैं !
    (3)(0)
    Reply
    1. B
      Brij Kishore
      Nov 7, 2017 at 5:47 pm
      Yes , demonetization was preplanned , legal loot.But on what ? Infact it affected people who were having unaccounted money being used for political gains , creating unrest in the country , destabilise markets and many other things. Dr. Manmohan Singh ji Why you was shocked when demonetization was declared ? Were you affected due to demonetization or congress. Every action has positive and negative points. Do you think that demonetization was totally negative and it has not resulted positively on points mentioned above were important for nation to stop all notorious activities which were damaging nation.
      (2)(3)
      Reply
      1. Umesh Verma
        Nov 7, 2017 at 5:12 pm
        मनमोहन आंधा टोपी अपने मालिक और मालकिन के खुशामद मे गुरु मंत्रा बता रहा है |
        (0)(4)
        Reply