April 23, 2017

ताज़ा खबर

 

जाकिर नाइक पर कसा शिकंजा, एनजीओ की 18.37 करोड़ की संपत्ति को ईडी ने किया अटैच

एनआईए ने समन जारी कर 51 वर्षीय जाकिर नाइक को 30 मार्च को नई दिल्ली स्थित एनआईए मुख्यालय में उपस्थित होने के लिए कहा है।

विवादित धर्मगुरु जाकिर नाईक। (फाइल फोटो)

विवादित इस्‍लामिक धर्मगुरु जाकिर नाइक पर जांच एजेंसियों ने शिकंजा कस दिया है। सोमवार को प्रवर्तन निदेशालय ने उसके एनजीओ, इस्‍लामिक रिसर्च फाउंडेशन की संपत्ति को अटैच कर दिया। प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्‍ट के तहत की गई इस कार्रवाई में 18.37 करोड़ रुपए की संपत्ति अटैच करने की बात सामने आई है। इससे पहले सोमवार को ही, राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने सोमवार को इस्लाम के प्रचारक जाकिर नाइक को एक मामले में एनआईए के समक्ष पेश होने के लिए समन जारी किया है। इस मामले में जाकिर नाइक के खिलाफ धर्म और नस्ल के आधार पर विभिन्न गुटों के बीच नफरत फैलाने का आरोप है। एनआईए ने समन जारी कर 51 वर्षीय जाकिर नाइक को 30 मार्च को नई दिल्ली स्थित एनआईए मुख्यालय में उपस्थित होने के लिए कहा है। एनआईए ने इससे पहले समन जारी कर नाइक को 14 मार्च को उपस्थित होने के लिए कहा था, लेकिन आत्मनिर्वासन पर चल रहे नाइक हाजिर नहीं हुए थे।

एनआईए के एक अधिकारी ने बताया कि मुंबई के मझगांव इलाके में स्थित नाइक के आवास ‘जैस्मिन अपार्टमेंट्स’ समन पहुंचाया दिया गया है। पिछले वर्ष एक जुलाई को बांग्लादेश की राजधानी ढाका के एक पॉश रेस्तरां में हुए आतंकवादी हमले की जांच के दौरान नाइक पहली बार जांच के घेरे में आए थे। ढाका हमले में शामिल एक आतंकवादी कथित तौर पर नाइक के भाषणों से प्रेरित होकर आतंकवादी बना था।

एनआईए ने इसके बाद गैरकानूनी गतिविधियां अधिनियम के तहत धर्म और नस्ल के आधार पर नफरत फैलाने के लिए नाइक के खिलाफ मामला दर्ज किया था और नाइक के आवास, उनके टेलीविजन चैनल पीस टीवी के कार्यालय सहित दर्जनों ठिकानों पर छापेमारी की थी। इसके अलावा नाइक के गैर सरकारी संगठन के बैंक खाते भी सीज कर दिए गए।

2050 तक भारत में होंगे सबसे ज्यादा मुस्लिम!

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on March 20, 2017 7:01 pm

  1. No Comments.

सबरंग