ताज़ा खबर
 

गृह मंत्रालय: गौ रक्षा के नाम पर हमले बर्दाश्त नहीं, कानून हाथ में लेने वालों पर सख्त कार्रवाई 

गृृह मंत्रालय की ओर से इस बात को स्वीकार गया- कुछ संगठन गौ रक्षा के नाम पर इस तरह के अपराध को अंजाम दे रहे हैं।
Author नई दिल्ली | August 9, 2016 23:06 pm
गायों का एक झूंड। (EXPRESS ARCHIVE)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी केे फर्जी गौ रक्षकों को लेकर कड़ी कार्रवाई करने की बात कहने के बाद केंद्र सरकार और गृह मंत्रालय ने इसे गंभीरता से लिया है। मंगलवार को गृृह मंत्रालय ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से कहा कि गौ रक्षा के नाम किसी भी शख्स पर हमला या अत्याचार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। साथ ही मंत्रालय की ओर से इस बात को स्वीकार भी किया गया है कुछ संगठन गौ रक्षा के नाम पर इस तरह के अपराध को अंजाम दे रहे हैं। गृह मंत्रालय ने साफ कर दिया है कि इस तरह की घटनाएं स्वीकार नहीं की जाएंगी। गृह मंत्रालय की ओर से राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों के सचिवों को जारी नोट में कहा गया है कि ऐसेे लोगों के खिलाफ सख्त एक्शन लिया जाए जो कानून को अपने हाथ में लेते हैं।

गौरतलब है कि गृह मंत्रालय की ओर से यह एडवाइजरी ऐसे समय आई है जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गौ रक्षा के नाम हो रहे हमलों को लेकर दो बार फर्जी गौ रक्षकों को फटकार चुके हैं। रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फर्जी गौरक्षकों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की बात करते हुए कहा था कि ये कुछ असामाजिक लोग हैं जो गौ रक्षा के नाम पर दुकाने चला रहे हैं। इससे पहले गौरक्षकों द्वारा दलितों के साथ की गई हिंसा पर पीएम ने कहा था कि ऐसे लोग रात में गलत कामों को अंजाम देते हैं और दिन में गौ रक्षक बन जाते हैं। राज्य सरकारों को ऐसे फर्जी गौरक्षकों का डोजियर तैयार करना चाहिए।

24 घंटे में 2 बार साधा फर्जी गौरक्षकों पर निशाना
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गौ रक्षकों द्वारा दलितों पर किए गए अत्याचार को लेकर 24 घंटे के अंदर दो बार निशाना साधा। रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दलितों पर अत्याचार करने वालों पर यह कहते हुए करारा प्रहार किया कि ‘अगर आप गोली मारना चाहते हैं तो मुझे मार दीजिए। लेकिन मेरे दलित भाइयों पर हमला बंद करो।’ उन्होंने राज्य सरकारों से इनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई का आह्वान किया।

 

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग