ताज़ा खबर
 

वापस जाओ, कब्जा करलो या मारे जाओ: डोकलाम विवाद पर पूर्व चीनी राजनयिक की भारत को धमकी

पूर्व राजनयिक लियू ने कहा कि चीन भारत के कदम का इंतजार कर रहा है।
चीन, भूटान व भारत की सीमा डोकलाम में मिलती है।

चीन के एक पूर्व राजनयिक ने बुधवार को डोकलाम विवाद पर भारत को धमकी देते हुए कहा है कि इस विवाद को एक महीना हो चुका है, अब भारतीय सैनिकों को तीन विकल्प दिए जाएंगे- वापस जाओ, कब्जा करलो या चीन का हमला। पूर्व राजनयिक की यह टिप्पणी बीजिंग के उस रुख को और कड़ा कर देती हैं जिसमें चीनी सरकार जोर दे रही है कि जब तक भारत वापस जाने की पूर्व शर्त पूरी नहीं करता, राजनयिक समाधान के लिए कोई जगह नहीं है।

पहले मुंबई में कौंसल जनरल रह चुके ये पूर्व राजनयिक लियू हेफा अब रणनीतिक मामलों के विशेषज्ञ बन गए हैं। लियू ने चाइना सेंट्रल टेलिविजन को दिए इंटरव्यू में कहा, “जब किसी देश के सैनिक बॉर्डर पार कर लेते हैं और किसी दूसरे देश की सरहद में पहुंच जाते हैं तो वह खुद ब खुद उस देश के दुश्मन बन जाते हैं और उन्हें तीन विकल्प में से एक चुनना होता है।” लियू ने आगे कहा, “पहला- वह स्वेच्छा से बाहर चले जाएं। या इलाके पर कब्जा कर लें। और सीमा विवाद बढ़ने पर वह मारे जाएंगे। यही तीन संभावनाए हैं।” लियू ने कहा कि चीन भारत के कदम का इंतजार कर रहा है।

एक दिन पहले ही चीन ने भारत को ललकारते हुए कहा था कि चीन युद्ध के लिए तैयार है और वह भारत से युद्ध करने से डरता नहीं है। भारत को विवादित सीमा पर सभी जगह टकराव का सामना करना पड़ेगा। डोकलाम में गतिरोध पर चीन व भारत के बीच तनाव में कोई कमी नहीं आई है। चीन ने इस मुद्दे पर कड़ा रुख अख्तियार किया है और वह हर रोज भारत को चेतावनी दे रहा है। चीन, भूटान व भारत की सीमा डोकलाम में मिलती है। यह स्थान तीनों राष्ट्रों के लिए रणनीतिक तौर पर महत्वपूर्ण है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग