ताज़ा खबर
 

3.81 लाख लोगों, 21 हजार व्यापारियों को सरकार ने बनाया ‘लकी’, बांटे 60.9 करोड़ रुपए

मोदी सरकार द्वारा चलाई गई लकी ड्रॉ योजनाओं में अबतक 3.81 लाख उपभोक्ताओं और 21,000 व्यापारियों को विजेता घोषित किया जा चुका है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (Source: PTI)

मोदी सरकार द्वारा चलाई गई लकी ड्रॉ योजनाओं में अबतक 3.81 लाख उपभोक्ताओं और 21,000 व्यापारियों को विजेता घोषित किया जा चुका है। इसपर कुल खर्च 60.9 करोड़ का आया। इसमें जीते विजेताओं को 24 अलग-अलग डिजी धन मेलों में विजय घोषित किया गया। ये इवेंट दिल्ली, लुधियाना, पणजी, लखनऊ, जम्मू, बेंगलुरु और हैदराबाद में हुए थे। जिन लोगों ने इनाम जीता उसमें अलग-अलग तरह के लोग शामिल हैं। जिसमें किसान, आंगनवाड़ी में काम करने वालों के साथ-साथ गृहणी भी शामिल हैं। इनाम जीतने वालों लोगों में से ज्यादातर की उम्र 21 से 30 साल के बीच की है।

इन राज्यों के लोग सबसे आगे: टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, जिन राज्यों के लोगों ने सबसे ज्यादा इनाम जीता उसमें महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश और कर्नाटक शामिल हैं। एक फरवरी तक 21 राज्यों और चार केंद्र शासित प्रदेशों में लकी ड्रा को किया जा चुका होगा। इसमें आने वाले दिनों में ईटानगर, भोपाल, थाणे, इंदौर, चेन्नई, जयपुर और पोर्ट ब्लेयर नाम शामिल है।

गौरतलब है कि मोदी सरकार ने पिछले साल नीति आयोग के जरिए दो योजनाओं की शुरुआत की थी। जिनके नाम डिजिधन व्यपार योजना और लकी ग्राहक योजना रखा गया था। इन स्कीम्स को सरकार ने 25 दिसंबर, 2016 से शुरू किया था। वित्त मंत्री अरुण जेटली और कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने बताया था कि स्कीम अंबेडकर जयंती यानी 14 अप्रैल 2017 तक चालू रहेगी।

कौन जीतेगा ? इसके तहत RuPay कार्ड, BHIM ऐप, UPI (Bharat Interface for Money/Unified Payment Interface), USSD की *99# की सर्विस, और आधार इलेबल सिस्टम से पेमेंट करने वालों में से लोगों को चुना जाएगा। सरकार ने कहा था कि देशभर के लोगों को डिजिटल पेमेंट की तरफ आकर्षित करने के लिए 100 डिजिधन मेले लगाए जाएंगे।

इस वक्त की बाकी ताजा खबरों के लिए क्लिक करें

देखिए संबंधित वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. S
    sach
    Jan 20, 2017 at 3:20 am
    ये फ्रॉड है...! जो जनता की मेहनत की कमाई को कालाधन बता कर लूट रहा है .... वह केवल अपने पार्टी के कार्यकर्ताओं को लाटरी में जितवा सकता है.....|
    Reply
सबरंग