ताज़ा खबर
 

लादेन को आतंकी न मानने वाले भारतीय मुस्लिम धर्मगुरु जकीर नायक से प्रभावित थे ढाका कैफे के हमलावर

पिछले सप्‍ताह शुक्रवार को ढाका के एक कैफे में 7 हमलावरों ने 20 लोगों को मौत के घाट उतार दिया था।
Author नई दिल्‍ली | July 5, 2016 17:22 pm
इस्लामिक उपदेशक जाकिर नाइक। (Source: Twitter)

बांग्‍लादेश के ढाका में एक कैफे पर हमला करने वाले 7 में से दो आतंकी एक विवादित भारतीय मुस्लिम धर्मगुरु जकीर नायक से प्रभावित थे। शुक्रवार को हुए हमले में 20 लोगों की हत्‍या कर दी गई थी। बांग्‍लोदश की सत्‍ताधारी अवामी लीग के राजनेता के बेटे रोहन इम्तियाज ने पिछले साल फेसबुक पर नाइक का एक संदेश पोस्‍ट किया था। जकीर बांग्‍लोदश में Peace TV पर उपदेशों की वजह से मशहूर हैं। जकीर को तब तीखी आलोचना का सामना करना पड़ा था, जब मुंबई में रिपोर्टर्स से बात करते हुए उन्‍होंने अोसामा बिन लादेन को आतंकी कहने से मना कर दिया था। मुंबई आधारित इस्‍लामिक रिसर्च फाउंडेशन के संस्‍थापक, जकीर नायक को अन्‍य धर्मों के खिलाफ नफरत भरे भाषण देने की वजह से ब्रिटेन और कनाडा में बैन किया गया है। वह मलेशिया में बैन 16 इस्‍लामी विद्वानों में से एक है।

READ ALSO: ब्‍लॉग: अंधों की तरह धर्म को मानने वाले बनते हैं आतंकी, जन्‍म से ही मिलने लगती है ट्रेनिंग

ढाका कैफे का दूसरा हमलावर, 22 साल का निबरस इस्‍लाम दो संदिग्‍ध ISIS नियोक्‍ताओं- अंजीम चौधरी और शमी विटनेस को 2014 में ट्विटर पर फॉला करता था। शमी विटनेस 24 साल के मेहदी बिश्‍वास का ट्विटर अकाउंट है जिसे 2014 में भारत से गिरफ्तार किया गया था। बिस्‍वास पर ‘इकलौता सबसे प्रभावशाली ISIS ट्विटर अकाउंट चलाने’ का आरोप लगाया गया था। जबकि पाकिस्‍तानी मूल का ब्रिटिश नागरिक अंजीम चौधरी इंग्‍लैंड में वहां का एंटी-टेररिज्‍म कानून तोड़ने की वजह से ट्रायल झेल रहा है। चौधरी ने कथित तौर पर अपने समर्थकों से सीरिया और इराक जाने को कहा था। निबरस और रोहन रातों रात कट्टरपंथी नहीं बने। फरवरी-मार्च में गायब होने के एक-दो साल पहले से वे कट्टरपंथ को समझ रहे थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.