December 11, 2016

ताज़ा खबर

 

आसान पहचान: 2000 रुपये का नया नोट गीले कपड़े से घिसने पर रंग नहीं छोड़ता तो हो सकता है नकली

प्रेस कॉन्फ्रेंस में वित्त सचिव शक्तिकांत दास ने जानकारी दी कि नया नोट गीले कपड़े से घिसे जाने के बाद अपना रंग छोड़ेगा। अगर नोट रंग नहीं छोड़ता तो हो सकता है कि वह नकली हो।

2000 रुपए का नया नोट। (File Photo)

केंद्र सरकार ने 1000 और 500 रुपये के पुराने नोटों को बदलकर 2000 और 500 रुपये के नए नोट जारी किए हैं। इसी बीच इंटरनेट पर कई सारे वीडियो खूब वायरल हो रहे हैं। इन नए वीडियो में एक समानता जरूर है कि लोग अपने नए नोटों को पानी से धो रहे हैं। ऐसे कई तरह के वीडियो सोशल नेटवर्किंग साइट यूट्यूब पर मौजूद हैं लेकिन इन वीडियो में बहुत से ऐसे भी हैं जो अफवाहें फैला रहे हैं। इसलीए यह जरूरी है कि आप संभलकर इन वीडियो को देखें या शेयर करें।

नए नोटों को पानी से धोने वाले कई सारे वीडियो यूट्यूब पर हैं। इन वीडियो के जरिए नोटों के असली या नकली होने या फिर उनकी क्वॉलिटी बताने की कोशिश की जा रही है लेकिन असली और नकली नोटों के बीच में फर्क करने के लिए आपके लिए वे बातें जानना ज्यादा जरूरी हैं जो कि देश के वित्त सचिव शक्तिकांत दास ने बताई हैं।

एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में वित्त सचिव शक्तिकांत दास ने यह जानकारी दी कि नया नोट पुराने नोटों की ही तरह अपना रंग छोड़ेगा। नोट अपना रंग गीले कपड़े द्वारा घिसे जाने या फिर पानी से धोए जाने के बाद ही रंग छोड़ेगा। शक्तिकांत दास ने आगे अपनी बात पूरी करते हुए कहा कि नोट अगर रंग नहीं छोड़ेगा तो हो सकता है कि वह नोट नकली हो।

जब से करेंसी के नए नोट लाने की घोषणा हुई है तभी से ही कई सारी अफवाहें तेज हैं। कुछ दिन पहले ही नए नोटों में नैनो जीपीएस चिप होने की भी अफवाह फैली थी जिसे खुद वित्त मंत्री अरूण जेटली ने खारिज किया था। खबरों के मुताबिक ठीक इसी तरह से इंटरनेट पर भी कई सारी अफवाहें फैल रही हैं जिनमें नोटों के रंग छोड़ने की बात को उसके नकली होने या खराब क्वॉलिटी का होने तक का बताया जा रहा है। ऐसी अफवाहों पर आप यकीन न करें और खुद सही जानकारी लेने की कोशिश करें।

देखें नए नोटों को धोते, साफ करते हुए कुछ वायरल वीडियो

वीडियो Source: youtube/Aamchi Mumbai

वीडियो Source: Youtube/Data Dock

वीडियो:2000 का नया नोट असली है या नकली? कलर टेस्ट करके ऐसे पहचानें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 16, 2016 10:59 am

सबरंग